इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। यदि आपका लाइसेंस खो गया है या उसकी वैधता अवधि खत्म हो गई है और आप उसका नवीनीकरण करवाना चाहते हैं तो 20 फरवरी के बाद से इन दोनों काम के लिए आपको आरटीओ कार्यालय नहीं जाना होगा। दरअसल इस व्यवस्था को आनलाइन किया जाएगा। प्रदेशभर में 1 अगस्त से लर्निंग लाइसेंस की व्यवस्था को आनलाइन कर दिया गया है। इसमें आवेदक को अब आरटीओ नहीं जाना होता है। आवेदक घर बैठे अपना लर्निंग लाइसेंस प्राप्त कर रहे हैं।

आरटीओ जितेन्द्र सिंह रघुवंशी ने बताया कि लर्निंग लाइसेंस की व्यवस्था को काफी अच्छा प्रतिसाद मिला है। लंबे समय से डुप्लीकेट लाइसेंस और नवीनीकरण की व्यवस्था भी आनलाइन करने की मांग की जा रही थी। हम इसे लेकर तैयारी भी कर रहे थे। इंदौर संभाग के अन्य जिलों में इस व्यवस्था को परीक्षण के लिए लागू कर दिया गया है। अब 20 फरवरी के बाद इंदौर में भी इसे लागू किया जाएगा। उज्जैन संभाग में भी लगभग सभी जिलों में इसे लागू कर दिया गया है। अब केवल बड़े शहर ही इससे बाकी रह गए हैं।

आरटीओ में कम हो जाएगी भीड़ - आरटीओ ने बताया कि डुप्लीकेट और लाइसेंस नवीनीकरण के लिए आरटीओ में रोजाना करीब 400 लोग पहुंचते हैं। करीब 200 लाइसेंस रोजाना बनते हैं। एक आवेदक अपने साथ एक अन्य व्यक्ति को लेकर ही आता है। इसके अलावा एजेंट भी रहता है। इससे यह संख्या 600 तक पहुंच जाती है, लेकिन अब यह सुविधा होने से भीड़ कम हो जाएगी। लर्निंग लाइसेंस शाखा बंद होने से भी आरटीओ में होने वाली भीड़ पर काफी असर पड़ा है। फरवरी के अंत से केवल पक्के लाइसेंस के ट्रायल और फोटो करवाने वाले आवेदक ही आरटीओ में होंगे।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local