Taste Of Indore: इंदौर, नईदुुनिया प्रतिनिधि। पंजाब में सूखे मेवों से बनने वाली पिन्नी बेशक दुनियाभर में प्रसिद्ध है लेकिन इंदौर में बनने वाले सूखे मेवे के व्यंजन भी कुछ कम लजीज और लोकप्रिय नहीं है। जितना खास इंदौरी नमकीन है उतना ही विशेष यहां बनने वाले ठंड के व्यंजन है, फिर चाहे बात तरह-तरह के हलवे की हो या ठंड के लड्डू की। यूं तो शहर में गोंद, खसखस, मेथीदाना पाउडर और दाल के लड्डू मिलते हैं लेकिन इन सबके अलावा जो विशेष तरह के लड्डू ठंड के मौसम में यहां बनते हैं वह है केसर कस्तूरी लड्डू। इन तमाम तरह के लड्डू बनाने में न केवल पारंपरिक पद्धति को अपनाया जाता है बल्कि बदलती जीवनशैली और मधुमेह के बढ़ते रोगियों को देखते हुए इन्हें शुगर फ्री भी बनाया जा रहा है ताकि स्वाद और सेहत दोनों बरकरार रहे।

यूं तो शहर में कई दुकानों पर ठंड के लड्डू बन रहे हैं लेकिन 56 दुकान स्थित मधुरम स्वीट्स एक ऐसी दुकान है जहां केसर कस्तूरी लड्डू बनते हैं। केसर, कस्तूरी, सोंठ, गोंद, बादाम, काजू, खजूर, खसखस आदि सूखे मेवे युक्त यह लड्डू आटे में मिलाकर तैयार किए जाते हैं जिसमें प्रचूर मात्रा में घी और मिठास के लिए शहद का उपयोग किया जाता है। खास बात यह है कि जो शुगर फ्री लड्डू की मांग करते है उनके लिए बनने वाले लड्डू में सूखे मेवों की मात्रा बढ़ाई जाती है ताकि प्राकृतिक ढ़ंग से उसमें मिठास शामिल हो सके और इसके अलावा शुगर फ्री भी मिलाया जाता है ताकि सेहत के प्रति फिक्रमंद लोगों को स्वाद से समझौता नहीं करना पड़े।

मधुरम स्वीट्स संचालक व पीढ़ियों से मिठाई बनाने का काम करते आ रहे शर्मा परिवार के श्याम शर्मा बताते हैं कि करीब 15 वर्ष से केसर कस्तूरी लड्डू बनाते आ रहे हैं। कुछ अलग और बेहतर देने के प्रयास में प्रयोग किया गया और यह लड्डू तैयार हुए। पहले तो गेहूं के आटे में सूखे मेवे से तैयार किए जाते थे लेकिन बाद ग्राहकों की मांग और बदलती जीवनशैली को ध्यान में रखते हुए इसमें कई तरह के बदलाव किए और सबसे बड़ा बदलाव मिठाई में से शकर की मिठास को हटाकर भी उसे मीठा ही बनाए रखने का था। जिन्हें गेहूं के आटे से भी गुरेज है उनके लिए यह लड्डू उड़द की दाल के आटे में तैयार किए जाते हैं।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close