इंदौर। कमोडिटी कारोबारी संदीप तेल हत्याकांड के आरोपित रोहित सेठी ने पूछताछ में कबूला कि वह प्रयागराज कुंभ में साधुओं के बीच साधु के वेश में छिप गया था। दाढ़ी बढ़ा ली थी। उनके साथ गांजा-स्मैक पीने लगा था। होटल-ढाबों पर हॉट स्पॉट का उपयोग कर परिचितों को व्हाट्सएप कॉलिंग कर तुरंत मोबाइल भी बंद कर लेता था। सेठी ने मददगारों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी है। पुलिस शुक्रवार दोपहर सेठी को उज्जैन लेकर पहुंची और एक मोबाइल फोन जब्त कर लिया।

पुलिस ने गुरुवार रात कनाड़िया थाने में रोहित से 8 घंटे लगातार पूछताछ की। इस दौरान सवालों के जवाब देते-देते वह रोने लगा। अधिकारियों से बोला मैं बर्बाद हो गया। मुझे अपराधियों से भी खतरा पैदा हो गया है। पुलिस ने हत्या के बाद भागने और छिपने की जानकारी मांगी तो कहा- जैसे ही सूचना मिली पिनेकल ड्रीम पहुंचा। सुशील बजाज ने कहा संदीप की हत्या हो गई। फिर अमित टोंग्या का फोन आया और कहा तुम भाग जाओ। उसने कर्मचारी विनोद को मिलने बुलाया और घर से रुपए मंगवा कर उसके साथ उज्जैन पहुंचा। मक्सी रोड (उज्जैन) स्थित एक फार्म हाउस पर पहुंचा और केबल ऑपरेटर मोनू भाया को बुलाया। एक दिन रुक कर मोनू के भाई कल्लू के साथ आगर में भैरव मंदिर पर आ गया। कल्लू ने उसे नई सिम और नया मोबाइल सौंपा। सोयतकलां-सुसनेर के रास्ते झांसी पहुंचा और करई में दो दिन रुका। दो दिन बाद दोबारा झांसी आ गया और एक ढाबे पर फरारी काटी।

यहीं से कॉल कर राजू नागर (उज्जैन) को बुलाया और दूसरी सिम व मोबाइल दिया। जैसे ही नई मोबाइल सिम मिलती, उसमें व्हाट्सएप इंस्टॉल कर लेता था। यहां रहने वाले केबल ऑपरेटर की मदद से कार द्वारा लखनऊ पहुंच गया। एक होटल में गिरने के दौरान हाथ की हड्डी टूट गई और चिनेट गांव में ऑपरेशन करवाना पड़ा। बाद में प्रयागराज कुंभ में पहुंच गया और साधुओं के बीच रहने लगा।

गांजा लेकर भाग रहा था, देहरादून पुलिस ने पकड़ लिया

एसपी (पूर्व) मो. युसूफ कुरैशी के अनुसार सेठी ने कबूला कि वह गांजा पीने लगा था। गांजा ले मसूरी के लिए रवाना हुआ था। देहरादून पुलिस को भनक लग गई और बस स्टैंड से पकड़ लिया। उसने मेरे खिलाफ चरस रखने का प्रकरण दर्ज कर लिया। सेठी को उसके रिश्तेदार ने यूएस की सिम नंबर दिए थे। उसने निलेश अजमेरा का नाम कबूल किया है। पुलिस उसकी व सुशील बजाज, मनोहर वर्मा, अमित टोंग्या, चंपू अजमेरा की भूमिका जांचेगी।

शूटरों को रिमांड पर लेगी पुलिस सेठी से होगा सामना

पुलिस जेल में बंद सुधाकर राव मराठा, शूटर टार्जन को पुराने प्रकरण में रिमांड पर लेकर सेठी से सामना करवाएगी। सेठी अभी तक सुधाकर से हत्या करवाने से इंकार कर रहा है। उसने कहा कि सुधाकर व संदीप के बीच विवाद हुआ था। उन ढाबा व होटलों की जांच की जाएगी, जहां आरोपित ने फरारी काटी। उससे आईडी ली गई या नहीं, इसकी भी जांच की जाएगी।

Posted By: