Sarvapitru Amavasya 2020: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पितरों के पूजन के सोलह दिनी पर्व श्राद्ध पक्ष का समापन गुरुवार को सर्वपितृ अमावस्या पर होगा। इस मौके पर लोग अपने ज्ञात-अज्ञात तिथि को दिवंगत हुए स्वजन का श्राद्ध करेंगे। इसके साथ ही कोरोना महामारी के कारण दिवंगत हुए लोगों का तर्पण और महामारी से मुक्ति के लिए देश के सात स्थानों पर एक साथ ऑनलाइन प्रार्थना भी की जाएगी।

आयोजन शहर के कृष्ण गुरुजी के सान्निध्य में होगा। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस ने संसार में अनेकों लोगों को असमय काल का ग्रास बनाया। ऐसी दिवंगत आत्माओं का तर्पण अनुष्ठान सर्वपितृ अमावस्या पर किया जाएगा।

तर्पण का आयोजन सुबह 11 से दोपहर 12 बजे तक गयाजी बिहार, बद्रीविशाल बद्रीनाथ, नारायण शिला हरिद्वार, चाणोद गुजरात, त्रयंबकेश्वर नासिक, पुष्कर सरोवर राजस्थान, सिद्धवट उज्जैन में होगा। इन जगहों पर तर्पण पंडितों के द्वारा करवाकर महामारी से मुक्ति की प्रार्थना की जाएगी। इस पूजा में ऑनलाइन प्लटेफॉर्म के जरिये जुड़ा जा सकता है।

17 सितंबर को ज्ञात-अज्ञात दिवंगतों का तर्पण

श्राद्ध पक्ष की चतुर्दशी तिथि पर बुधवार को केसरबाग रोड स्थित अहिल्या माता गोशाला पर दुर्घटना में मृत हुए लोगों का तर्पण किया गया। गोशाला प्रबंध समिति के अध्यक्ष रवि सेठी और सचिव पुष्पेंद्र धनोतिया ने बताया कि 17 सितंबर को ज्ञात-अज्ञात दिवंगतों का तर्पण होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020