इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि । स्ववित्त कर्मचारियों के वेतनवृद्धि को लेकर देवी अहिल्या विश्वविद्यालय ने गुरुवार देर शाम को आदेश निकाल दिया। इसके बाद कर्मचारी संगठन ने दस दिन से चल रही अपनी हड़ताल खत्म कर दी। स्ववित्त कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने शुक्रवार से काम पर लौटने की बात कहीं। उधर विश्वविद्यालय ने जनवरी तक कर्मचारियों को चार वेतनवृद्धि करने का आश्वासन दिया।

वेतन नहीं बढ़ने से नाराज कर्मचारी 15 नवंबर से हड़ताल पर उतर गए। इस बीच विश्वविद्यालय प्रशासन ने दो पदाधिकारियों का तबादला कर दिया। यहां तक हड़ताल अवधि में कर्मचारियों का वेतन काटने का आदेश जारी किया। इस बीच विवि और कर्मचारियों के बीच समन्वय के लिए कार्यपरिषद सदस्यों ने सामने आए। विश्वविद्यालय जहां कर्मचारियों के तबादले और वेतन कटौती का आदेश वापस लेने के तैयार हुआ। वहीं कर्मचारी अपने वेतनवृद्धि का आदेश देने को राजी हुए।

साथ ही आदेश की प्रति अपनी सर्विस बुक में चस्पा करने पर सहमति दी। मगर वेतनवृद्धि का आदेश नहीं निकाला। इस बीच कर्मचारी फिर भड़क गए और उन्होंने आदेश निकलने तक हड़ताल जारी रखने की बात कहीं। हड़ताल की वजह से विभागों में काम अटक गए। फिर विश्वविद्यालय ने शुक्रवार को आदेश निकाला। कुलाधिसचिव डा. अशोक शर्माजी ने गुरुवार देर शाम को आदेश की प्रति कर्मचारियों को सौंपी। बाद में संगठन ने हड़ताल को स्थगित कर दिया। संगठन के अध्यक्ष दीपक सौलंकी ने कहा कि आदेश मिल गया है। अब शुक्रवार से कर्मचारी अपने-अपने विभागों में काम पर लौटेंगे।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local