इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर के नंदानगर सरकारी स्कूल के 11वीं के छात्र शिवमसिंह की उसके दो साथियों ने सरेराह चाकू मारकर हत्या कर दी। आरोपित छात्रों ने सहपाठी नितिन और नरेंद्र कोरी पर भी जानलेवा हमला किया है। शिवम की एक छात्रा से दोस्ती थी और आरोपित छात्रा से बात करने से मना करता था। घटना के वक्त तीन स्कूली छात्राएं भी घटना स्थल पर मौजूद थीं।

परदेशीपुरा थाना पुलिस के मुताबिक घटना शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे जबरेश्वर महादेव मंदिर के समीप की है। 17 वर्षीय 11वीं का छात्र शिवम पुत्र मानसिंह चौहान दोस्त नितिन मथुराप्रसाद चौरसिया, नरेंद्र मुकुंदीलाल कोरी और मानव अहिरवार के साथ शासकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय (नंदा नगर) प्रश्न बैंक लेने गया था। रास्ते में इसी स्कूल में पढ़ने वाले 11वीं के छात्र मिले और शिवम से विवाद करने लगे। एक छात्र ने चाकू निकाला और शिवम को मारना शुरू कर दिया। नितिन और नरेंद्र ने बीच-बचाव किया लेकिन आरोपितों ने दोनों पर टूट पड़े और पेट व जांघ पर चाकू मार दिए। शिवम की पेट और गले में गहरी चोट लगने से मौत हो गई।

वारदात के बाद दोनों आरोपित घटनास्थल से फरार हो गए। परदेशीपुरा थाना पुलिस ने आरोपित छात्रों के घरों पर छापे मारे लेकिन फरार मिले। पुलिस ने दबाव बनाने के लिए दोनों के स्वजनों को हिरासत में ले लिया। हमले में घायल नरेंद्र की हालत भी गंभीर है। उसके सीने और पैर में चोट लगी है।

स्कूल में ही चाकू मारना चाहता था नाबालिग छात्र

चश्मदीद नितिन ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की। उसने कहा साथ पढ़ने वाले एक छात्र की शिवम से कहासुनी हो गई थी। दोपहर को वह साथी को लेकर आया और पुरानी बात पर विवाद करने लगा। साथ आए छात्र ने शिवम को चाकू मारा तो बचाने की कोशिश की और उस पर भी हमला हो गया। एसआइ अजयसिंह कुशवाह मानव अहिरवार को घटनस्थल लेकर गए तो उसने हकिकत बताई। मानव ने कहा कि साथ पढ़ने वाली एक छात्रा से शिवम की दोस्ती थी। आरोपित छात्र चाहता था कि शिवम छात्रा से बातचीत बंद कर दें। शिवम, नितिन, मानव, नरेंद्र जब प्रश्न बैंक लेने स्कूल गए तो तीन छात्राएं भी साथ थी। आरोपित स्कूल में ही झगड़ने लगे लेकिन चौकीदार ने उन्हें भगा दिया।

स्कूल बैग में पिस्टल लेकर आता था आरोपित छात्र

नितिन के मुताबिक आरोपित छात्र भी उसके साथ ही पढ़ते है। एक छात्र चाकू व कट्टे रखने का शौकीन है। कुछ समय पूर्व स्कूल में बैग में पिस्टल लेकर आ गया था। वह छात्रों को चाकू निकालकर धमकाता था। उसकी इस हरकतों के कारण उसे स्कूल से बाहर निकाल दिया था।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local