इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बिजली सेवा 24 घंटे, सातों दिन की सेवा है। गुणवत्तापूर्ण बिजली वितरण एवं उपभोक्ताओं को दिए गए बिलों की समय पर वसूली बहुत जरूरी है। राजस्व संग्रहण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बिजली वितरण एवं राजस्व संग्रहण प्रत्येक कर्मचारी व अधिकारी का सबसे महत्वपूर्ण कार्य है।

मप्रपक्षेविविकं इंदौर के प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने झाबुआ के सर्किट हाउस में मंगलवार को उक्त निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि आदिवासी बहुल झाबुआ जिले में किसानों की बिजली मामले में काफी मदद की जा रही है। जिले के 36 हजार 500 अजा, जजा किसानों सिंचाई के लिए करोड़ों रुपये की सब्सिडी सरकार प्रदान करती है। प्रत्येक बिजली वितरण केंद्र में बिजली उपभोक्ता की शिकायतों का समय पर समाधान हो, मौसम बिगड़ने से यदि बिजली आपूर्ति प्रभावित हो तो समय पर सुधार कार्य हो। उन्होंने कहा कि बिजली का अच्छा वितरण एवं बिलों की वसूली के प्रति प्रत्येक कर्मचारी व अधिकारी ईमानदारी से कार्य करें। राजस्व संग्रहण विलंबित न हो, इसके लिए दैनिक लक्ष्य बनाकर उसे प्राप्त किया जाए, बिजली शिकायतों का निराकरण, नए कार्यों, सुधार कार्यों, क्षमता वृध्दि आदि की जानकारी क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों को दी जाए ताकि उन्हें उनके क्षेत्र की बिजली संबंधी जानकारी हो। इससे हमारे प्रति उनकी सोच सकारात्मक होगी। उन्होंने ज्यादा लाइन लास वाले क्षेत्र/ फीडर चिहिंत कर लास घटाने, बिलिंग दक्षता बढ़ाने के निर्देश दिए। इस दौरान झाबुआ के अधीक्षण यंत्री पीएस ठाकुर, कार्यपालन यंत्री सुखदेव मंडलोई आदि ने भी अपने कार्यक्षेत्र का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। प्रबंध निदेशक तोमर ने प्रत्येक बिजली वितरण केंद्र प्रभारी से चर्चा की।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags