मुख्य आरोपित अमजद और सलमान की तलाश में कई जगह छापेमार कार्रवाई

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि । क्राइम ब्रांच पुलिस ने 1300 किलो गोमांस के साथ पकड़े गए आठ आरोपितों में से छह को जेल भेज दिया है। दो आरोपित समीर और साबीर को रिमांड पर रखा है। समीर गोमांस लेकर आया था और साबीर यहां पर गोमांस खरीदता था, दोनों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। रिमांड के दौरान गोमांस सप्लाई में बड़ा खुलासा होने की संभावना है, मामले में कई नाम और सामने आ सकते हैं।

एएसपी जयवीर सिंह भदौरिया ने बताया फरार आरोपित अमजद और सलमान की तलाश की जा रही है। अमजद ताजपुर का रहने वाला है और वह मुख्य रूप से गोमांस सप्लाइ करने वाला है और सलमान इंदौर में ही रहता है, पुलिस ने दोनों की तलाश में कई स्थानों पर छापेमार कार्रवाई की, लेकिन पकड़ में नहीं आए।

गौरतलब है कि क्राइम ब्रांच ने ताजपुर और तराना से गोमांस लेकर आई दो गाड़ियों एमपी 09 सीजी 8993 और एमपी 09 सीसी 3682 को पकड़ा। इसके साथ ही आठ आरोपित समीर, सबीर , शफीक, आवेश, युनुस, मो इश्तेहार, खलीफ और हुसैन को गिरफ्तार किया था। क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि आरोपित उज्जैन के ताजपुर और तराना से गोमांस की गाड़ियां लेकर आते हैं और उन्हें सुबह खाली किया जाता है। सूचना के बाद आरोपितों को सेन्ट्रल कोतवाली क्षेत्र से गिरफ्तार किया था।

आरोपितों को ताजपुर लेकर जाएगी पुलिस

एएसपी ने बताया कि रिमांड पर रखे गए आरोपित समीर और साबिर को पुलिस की एक टीम ताजपुर लेकर जाएगी। आशंका है कि वहां बड़ी संख्या में गोवध किया जाता था। इसके बाद यहीं से मांस की गाड़ियां लोड की जाती थीं। वहीं सभी आरोपितों की रासुसा कलेक्टर आफिस में पेश की जाएगी। साथ ही सभी आरोपितों की प्रोपर्टी और अवैध निर्माण की जानकारी निकाली जा रही है। वहीं फरार आरोपितों पर इनाम घोषित किया जाएगा।

गाड़ियां होंगी राजसात

एएसपी के मुताबिक गोमांस से भरी हुई जिन दो गाड़ियों को जब्त किया था, उन गाडियों को राजसात करने की कार्रवाई की जानी है। वहीं सभी आरोपितों की काल डीटेल व अन्य तकनीकी जांच कर रही है। इससे पता चल सकेगा कि आरोपित कब से गोमांस सप्लाई कर रहे हैं और खरीददार कौन हैं। साथ ही और कहां पर गोमांस सप्लाई किया जाता है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close