इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मलेशियाई पाम तेल वायदा में सटोरियों का सक्रियता बढ़ने के कारण भाव मजबूती पर बंद हुए। इससे घरेलू बाजार में भी सोया तेल की कीमतों में सुधार का रुख जारी रहा। इंदौर में सोया तेल 15 रुपये बढ़कर 1210-1220 रुपये प्रति दस किलो पर पहुंच गया। एनसीडीईएक्स ने सौदों के फाइनल सेटलमेंट प्राइज जारी कर दिए। सोयाबीन का दाम एफएसपी में 64 हजार से ऊपर है और रिफाइंड का दाम 1200 से ऊपर रखा गया है।

सूत्रों के अनुसार इंडोनेशिया शीर्ष उत्पादक खाद्य तेल के निर्यात को प्रतिबंधित करने की योजना बना रहा है जिससे खाद्य तेल बाजारों में तेजी देखने को मिली है। हालांकि कुछ जानकारों का मानना है कि इंडोनेशिया द्वारा निर्यात पर नियंत्रण की अफवाहों के चलते कीमतों में अभी भी तेजी आ रही। इंदौर में भी सोया तेल की सप्लाई टाइट रहने और उपभोक्ता पूछताछ अच्छी देखी जा रही है। मूंगफली तेल में लेवाली कमजोर होने से भाव में नरमी रही। मूंगफली तेल इंदौर 10 रुपये टूटकर 1320-1340 रुपये प्रति दस किलो रह गया। इन दामों पर भी व्यापार बेहद कमजोर है। कपास्या खली में भी लेवाली कमजोर रहने से भाव में गिरावट रही।

सोपा ने कहा है कि चालू वित्त वर्ष के पहले नौ महीनों (अप्रैल-दिसंबर 2021) के दौरान देश का खाद्य तेल आयात बिल 75 प्रतिशत बढ़कर 1,04,354 करोड़ रुपये हो गया, जो एक साल पहले की अवधि में 59,543 करोड़ रुपये था। सोयाबीन प्रोसेसर्स एसोसिएशन आफ इंडिया के अनुसार, पिछले वित्त वर्ष के पहले नौ महीनों (अप्रैल-दिसंबर 2020) के दौरान, भारत ने 59,543 करोड़ रुपये के खाद्य तेल का आयात किया था।सोपा ने खाद्य तेल के आयात की तीव्र गति पर चिंता व्यक्त करते हुए यह भी कहा है कि आयात पर हमारी निर्भरता खाद्य तेल निर्यातक देशों और उनके तिलहन उत्पादकों को प्रीमियम मूल्य प्राप्त करने में मदद कर रही है। हम उन्हें समृद्ध बना रहे हैं क्योंकि भारत खाद्य का सबसे बड़ा आयातक बना हुआ है।

सोपा ने सुझाव दिया है कि मांग और आपूर्ति को संतुलित करने के लिए खाद्य तेलों को उच्च टैरिफ पर आयात किया जाना चाहिए। इससे एकत्रित शुल्क को अन्य फसलों को क्रास-सब्सिडी देने के बजाय घरेलू तिलहन क्षेत्र के विकास पर खर्च किया जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि भारत खाद्य तेल की अपनी घरेलू आवश्यकता का 60 प्रतिशत आयात के माध्यम से पूरा करता है।

लूज तेल (प्रति दस किलो)- इंदौर मूंगफली तेल 1320-1340, मुंबई मूंगफली तेल 1320, इंदौर सोयाबीन रिफाइंड 1215-1220, इंदौर सोयाबीन साल्वेंट 1175-1180, मुंबई सोया रिफाइंड 1210, मुंबई पाम तेल 1175, इंदौर पाम 1251, राजकोट तेलिया 2070, गुजरात लूज 1275, कपास्या तेल इंदौर 1185 रुपये।

तिलहन : सरसों 7000 से 7100, रायड़ा 6000 से 6300, सोयाबीन 6200 से 6400 रुपये क्विंटल।

सोयाबीन डीओसी स्पाट 52500 से 55500 रुपये टन।

प्लांटों के सोयाबीन भाव- अवि 6500, प्रकाश 6500, बैतूल 6650, सोनिक 6350, महेश 6475, रुचि 6500, कृति 6450, प्रेस्टिज 6500, लक्ष्मी 6400, महाकाली 6500, सांवरिया 6450, इटारसी 6550, एमएस 6500, धानुका 6525, अग्रवाल 6500, सालासर 6450, अंबिका 6500, अमरीत 6525, रामा 6350 व शांति 6500 रुपये।

कपास्या खली (60 किलो भरती) बिना टैक्स भाव -इंदौर 2175 देवास 2175, उज्जैन 21750, खंडवा 2150, बुरहानपुर 2150, अकोला 3225 रुपये।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local