इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने पीथमपुर के मीणा मोहल्ले में दबिश देकर छह सटोरियों को पकड़ा। आरोपित खुले में टेबल-कुर्सी लगाकर सट्टा लिख रहे थे। एसटीएफ ने उन्हें पीथमपुर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। हालांकि सरगना फरार हो गया।

एसपी (एसटीएफ) मनीष खत्री के मुताबिक, धीरेंद्र पुत्र रमेश जायसवाल सट्टे का अड्डा चला रहा था। टीम ने क्राइम ब्रांच की मदद से दबिश देकर आरोपित चंद्रेश पुत्र उमेश गोस्वामी, दीपक पुत्र मनोहर पाटीदार, गुलाम मुस्तफा पुत्र मोहम्मद खान, तेजराम पुत्र हुकुमचंद सुनेरिया, पवन पुत्र राधेश्याम सैनी और राम पुत्र शंकर पटेल को गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों से सट्टा सामग्री, मोबाइल, पर्चियां और 40 हजार रुपए बरामद हुए हैं। पुलिस धीरेंद्र जायसवाल की तलाश कर रही है।

ऑनलाइन सट्टा केस : मुख्य आरोपितों को जेल भेजा, खातों की जांच

आइपीएल क्रिकेट मैच के ऑनलाइन सट्टा मामले में एसटीएफ ने मुख्य आरोपित जयवंत लंके और जयेश लंके को गुरुवार दोपहर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया। दोनों के करीब 10 खातों की जांच की जा रही है। एक खाते में 2 करोड़ 40 लाख रुपये मिले हैं। इसमें रुपये जमा कराने वालों को भी पुलिस तलब कर रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस