इंदौर। चोइथराम सब्जी मंडी में प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के विरोध में शुक्रवार को मंडी बंद रही। सभी व्यापारियों ने हड़ताल कर विरोध प्रदर्शन किया। हड़ताल की वजह से आज सब्जी की ब्रिकी भी नहीं हुई।

गुरुवार को प्रशासन के अमले ने चोइथराम मंडी में बड़ी कार्रवाई करते हुए जेसीबी मशीन से व्यापारियों के करीब 80 अवैध अतिक्रमण तोड़ दिए थे। इस दौरान नगर निगम, पुलिस और मंडी के अधिकारी भी मौजूद थे। पक्के कब्जे हटाने के दौरान एक व्यापारी ने विरोध भी किया, लेकिन उसकी दो मंजिला पक्की दुकान तोड़ दी गई। इस बीच व्यापारी ने मंडी सचिव और प्रभारी को गाली दी और कहा कि देख लूंगा और मंडी में नहीं रहने दूंगा। व्यापारी ने हम्मालों और अन्य व्यापारियों को इकट्ठा कर प्रशासन पर दबाव बनाने की कोशिश की। इस कारण मजबूरन पुलिस को भीड़ पर लाठियां भांजनी पड़ी।

कार्रवाई के दौरान प्रशासनिक व मंडी अधिकारियों के पास सीएम स्तर व लोकल नेताओं के फोन आते रहे। इस कारण उन्होंने अपने मोबाइल कार्रवाई पूरी होने तक बंद रखे। कार्रवाई के दौरान कैंटीनों और खेरची व्यापारियों की सामग्री हटाई गई। इन खेरची व्यापारियों को मंडी में पीछे की तरफ सफाई करवाकर जमीन उपलब्ध कराई गई है। एडीएम और मंडी अधिकारियों ने कब्जे हटाने के लिए व्यापारियों को तीन दिन का समय दिया था। इसमें से कुछ ने कार्रवाई के डर से एक दिन पहले ही कब्जे हटा लिए थे। अधिकारियों का कहना है कि अब व्यापारी यहां दोबारा कब्जा न करें, इसके लिए स्थायी व्यवस्था की जाएगी।

सभी व्यापारियों की बैठक कर इन्हें वैध तरीके से व्यापार करने के लिए कहा जाएगा। इस मंडी में 2003 के बाद गुरुवार को बड़ी अतिक्रमण हटाने की बड़ी कार्रवाई की गई। व्यापारियों ने पूरी मंडी में अवैध रूप से अतिक्रमण कर रखा था। इस कारण यहां वाहनों को निकलने और किसानों को उपज बेचने में दिक्कत होती थी। कई बार जाम की स्थिति भी बन जाती थी। इसे देखते हुए व्यापारियों को अवैध कब्जे हटाने के लिए लिखित और मौखिक रूप से कहा गया, लेकिन उनके अड़ियल रवैये के कारण कब्जे नहीं हटे।

दो मंजिला पक्का निर्माण किया जमींदोज

कच्चे अतिक्रमण तोड़ने के दौरान लोगों ने विरोध नहीं किया, लेकिन जब टीम व्यापारी प्रकाश परीडवाल का पक्का अतिक्रण तोड़ने पहुंची तो उसने विरोध शुरू कर दिया। करीब आधे घंटे तक एडीएम, तहसीलदार सहित मंडी अधिकारियों ने उसे समझाया, लेकिन वह विवाद पर उतारू हो गया। इसके बाद प्रशासन और पुलिस ने सख्ती कर उसका दो मंजिला पक्का अतिक्रमण जमींदोज कर दिया। परीडवाल का कहना है कि वह प्रशासन के खिलाफ आज प्रदर्शन करेगा। उसके साथ अन्य व्यापारी भी बंद रखेंगे और प्रदर्शन करेंगे। एडीएम ने प्रशासनिक, पुलिस, नगर निगम और मंडी के अधिकारियों को कार्रवाई के लिए गुरुवार दोपहर 12 बजे मौके पर मौजूद रहने के लिए कहा था। कार्रवाई 12 बजे से शुरू हुई, जो शाम को लगभग सात बजे तक चली। इस दौरान चिन्हित कच्चे-पक्के लगभग 100 अतिक्रमण तोड़ नगर निगम ने मलबा जब्त किया।

खेरची व्यापारियों के लिए पीछे बनाएंगे गेट : एडीएम कैलाश वानखेड़े ने बताया कि खेरची व्यापारियों के लिए मंडी के पिछले हिस्से में जगह उपलब्ध कराई जाएगी। इसके साथ ही यहां पर ग्रीन पार्क कॉलोनी की तरफ से एक गेट भी बनाया जाएगा, जिससे छोटे वाहन से लेकर फुटकर सब्जी खरीदने वाले लोगों का जाम नहीं लगेगा।