इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Indore News। नगर निगम द्वारा बकाया कर के अधिभार में दी जाने वाली छूट के आखिरी दिन 31 अगस्त को निगम खाते में तगड़ा राजस्व जमा हुआ। लोगों ने छूट का भरपूर फायदा उठाते हुए सुबह से रात तक 16 करोड़ रुपये का बकाया कर जमा कर दिया। रात तक निगम के कैश काउंटर चालू रहे। राजस्व विभाग के अधिकारियों ने बताया कि उक्त आंकड़े मंगलवार रात नौ बजे के हैं।

कुछ एंंट्री बुधवार को भी होंगी, इसलिए राजस्व का आंकड़ा और बढ़ेगा। कई लोगों ने आनलाइन कर और शुल्क जमा किया है। जो राजस्व इकट्ठा किया है, उसमें संपत्ति कर, जल कर और घर-घर कचरा कलेक्शन शुल्क की राशि शामिल है। निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि पिछले साल की तुलना में इस साल ज्यादा राजस्व एकत्रित हुआ है। राजस्व विभाग के अफसरों और कर्मियों ने इसमें पूरी मेहनत की है।

अप्रैल से अब तक 108 करोड़ रुपये से ज्यादा का बकाया कर और शुल्क जमा हो चुका है। अधिकारियों का कहना है कि लोग अब बकाया घर-घर कचरा संग्रहण शुल्क भी पहले से ज्यादा संख्या में जमा करने लगे हैं। यदि निगम को यही बकाया शुल्क मिल जाए, तो 50-60 करोड़ रुपये की आय हो सकती है।

हर साल जून तक रहती है छूट

अग्रिम और बकाया कर भरने वालों को राज्य सरकार के निर्देश पर नगर निगम हर साल अधिभार में छूट देता है। पिछले साल की तरह इस साल भी कोरोना लाकडाउन के कारण यह छूट बढ़ाकर 31 अगस्त तक कर दी गई थी। यही वजह रही कि लोगों ने इसका खूब फायदा उठाया।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local