इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि Crime File Indore। बाघ की खाल खरीदने बेचने के मामले में खजराना थाना पुलिस ने एक मिठाई कारोबारी को पकड़ लिया है। उस पर वन्यजीव प्राणियों के अंगो के तस्करों से जुड़े होने का शक है।

खजराना थाना पुलिस ने शुक्रवार को आरोपित प्रकाश सेन और सुनील बसोड़ को गिरफ्तार किया था। आरोपितों से पच्चीस साल पुरानी नर बाघ की खाल और दो कछुए मिलें थे। पूछताछ में आरोपितों ने गाड़रवाड़ा के मिठाई कारोबारी सुनील अग्रवाल का नाम कबूला। देर रात पुलिस ने अग्रवाल को हिरासत में ले लिया।

वन अफसर करेंगे जांच

पुलिस ने मामले की जांच के लिए टाइगर स्ट्राइक फोर्स, वन मंडल अफसरों को भी खाल के बारे में बता दिया है। पुलिस को शक है बाघ की यह खाल पच्चीस वर्ष पुरानी है। वन अफसरों ने खाल का नमूना ले लिया है। डीएनए टेस्ट करवा कर उम्र का पता लगाया जाएगा।

कछुए वन अफसरों को सौंपे

पुलिस ने आरोपितों से दो कछुए भी बरामद किए है। कछुए की कीमत 20 लाख रूपये आंकी गई है। पुलिस ने कछुए वन मंडल को सौंप दिए हैं।

हलवाई का काम करता है प्रकाश

मुख्य आरोपित प्रकाश सेन ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि वह हलवाई का काम करता है। लॉकडाउन के पूर्व नरसिंगपुर के मिठाई व्यवसायी अग्रवाल ने खाल बेचने के लिए दी थी। वह विजय नगर, खजराना और कनाड़िया क्षेत्र के कारोबारियों के संपर्क में था। इसी बीच पुलिस को भनक लग गई और ग्राहक बनकर संपर्क किया। शुक्रवार को आरोपितों को वाघेला फार्म हाउस के समीप बुलाकर गिरफ्तार कर लिया।

तंत्र-मंत्र में उपयोग में लाई जाती है खाल

आइजी हरिनारायणाचारी मिश्र के मुताबिक, खाल का उपयोग साज-सज्जा और तंत्र-मंत्र के लिए किया जाता है। आरोपितों ने खरीदारों को बताया था कि खाल पर बैठकर कामायनी काजल लगाकर साधना करने पर साधक मनचाहे कार्य करवा सकता है, इसलिए लोग खाल खरीदने के लिए लिए तैयार भी हो जाते हैं।

नाखून के मुताबिक कछुओं की कीमत

कुछ लोग घरों में समृद्धि और वास्तु दोष समाप्त करने के लिए कछुए खरीदते हैं। हिंदू धर्म में कछुए को पवित्र माना गया है। कछुओं की खरीद-फरोख्त उनके नाखूनों के हिसाब से होती है। 18 नाखूनों वाले कछुए की कीमत लाखों रुपये में होती है। जानकार मानते हैं कि 18 नाखून वाले कछुए को घर में रखने से धन-संपदा का आगमन होता है। अपने प्रतिष्ठान में कछुए रखने पर कारोबार में बढ़ोतरी होती है। जब्त एक कछुआ 18 नाखूनों का बताया जा रहा है। आरोपित दोनों कछुओं की कीमत 20 लाख रुपये मांग रहे थे।

Posted By: Sameer Deshpande

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags