इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश के इंदौर, बुरहानपुर और भोपाल में शुक्रवार को हुई घटनाओं ने यह प्रश्न खड़ा कर दिया कि आखिर हमारा किशोर और बालक आयु वर्ग किस ओर जा रहा है। ये घटनाएं बताती हैं कि आक्रोश, नासमझी और बदला लेने की भावना के कारण अब किशोरों के दिमाग में भी हिंसा घर कर रही है। यह समूचे समाज को एक चेतावनी है।

भोपाल : बहन से वाट्सएप चेटिंग करता था, भाइयों ने मार डाला

भोपाल के बैरसिया थाना इलाके में दो भाइयों ने बहन से वाट्सएप पर चेटिंग करने वाले किशोर को पहले अगवा किया और फिर जंगल में ले जाकर उसकी हत्या कर शव फेंक दिया। पहचान मिटाने के लिए किशोर का सिर पत्थर से कुचल दिया था। बैरसिया थाना पुलिस के मुताबिक इब्राहिमपुरा बैरसिया निवासी कुलदीप पुत्र दिनेश कुशवाहा (17) 26 जनवरी को लापता हो गया। पिता ने फोन लगाया तो मोबाइल बंद मिला। तब थाने में गुमशुदगी दर्ज करवाई गई। संदेह के आधार पर बैरसिया में रहने वाले चिंटू उर्फ आनंद कुशवाहा (20) और कोर्ट के पास रहने वाले उसके रिश्तेदार राजू कुशवाहा (21) से पूछताछ की गई। आरोपित चिंटू ने बताया कि कुलदीप उसकी बहन से फोन पर बात और वाट्सएप पर चेटिंग भी करता था। उसे बाइक से घुमाने के बहाने से उनींदा के जंगल में ले गए और मार डाला। पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

बुरहानपुर : 12 वर्षीय बालक ने गला दबाकर की सात वर्षीय मासूम की हत्या

बुरहानपुर जिले के खकनार थाना क्षेत्र के शेखापुर गांव में एक 12 वर्षीय बालक ने सात वर्षीय मासूमकी इसलिए हत्या कर दी क्योंकि उसने उसे अपशब्द कहे थे। पुलिस अधीक्षक राहुल लोढ़ा के मुताबिक सात वर्षीय कालू पुत्र बद्री भिलाला 26 जनवरी की शाम से लापता था। उसका शव हल्दी के खेत में पड़ा मिला। पोस्टमार्टम से पता चला कि उसकी मौत मुंह व गला दबाने से हुई है। जांच में पता चला कि कालू के पड़ोस में रहने वाला 12 वर्षीय बालक अपने पिता के साथ चने के खेत की रखवाली करता है। 26 जनवरी की शाम कालू ने खेत में जाकर कुछ चने तोड़ लिए तो आरोपित बालक ने उसे रोका। तब सात वर्षीय बच्चे ने अपशब्द कहे तो 12 वर्षीय बालक ने गुस्से में उसका मुंह व गला दबा दिया। कालू अचेत होकर गिर पड़ा तो उसे बेहोश समझकर वह काफी देर तक उसके पास बैठा रहा। जब कालू नहीं उठा तो उसे वहीं छोड़कर वह घर चला गया। दूसरे दिन सुबह फिर उसने घटनास्थल पर जाकर देखा तो कालू वहीं पड़ा था। तब उसे अहसास हुआ कि कालू की मौत हो गई है। उसने पिता को घटना की जानकारी दी और कालू की मां को भी बताया। आरोपित बालक ने पुलिस को बताया कि उसकी मां नहीं है, इसलिए मां को अपशब्द कहने पर उसे गुस्सा आ गया था।

इंदौर : छात्रा से बात करता था शिवम, साथियों ने चाकू से गोदा

इंदौर के नंदानगर सरकारी स्कूल में 11वीं के छात्र शिवम (17) पुत्र मानसिंह चौहान की शुक्रवार दोपहर 11वीं कक्षा के छात्रों ने सरेराह चाकू मारकर हत्या कर दी। शिवम की एक छात्रा से दोस्ती थी और मुख्य आरोपित उससे बात करने से मना करता था। शुक्रवार को शिवम अपने दोस्त नितिन, नरेंद्र और मानव अहिरवार के साथ शास. उमा विद्यालय (नंदानगर) में प्रश्न बैंक लेने गया था। इनके साथ वह छात्रा भी थी। रास्ते में आरोपितों ने शिवम को रोका और चाकू मारना शुरू कर दिया। नितिन और नरेंद्र ने बीच बचाव किया, लेकिन आरोपितों ने उन्हें भी चाकू मार दिए। पेट और गले में गहरी चोट लगने से शिवम की मौत हो गई। घायल नरेंद्र की हालत भी गंभीर है। एक आरोपित गिरफ्तार हो गया है।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local