इंदौ (नईदुनिया प्रतिनिधि)। टीआइ हाकमसिंह पंवार आत्महत्या केस में फरार कपड़ा कारोबारी गोविंद जायसवाल शनिवार दोपहर कोर्ट में पेश हो गया। अजाक थाना पुलिस ने आरोपित को छह दिन के पुलिस रिमांड पर ले लिया। पुलिस ने कोर्ट में दलील दी कि वह जायसवाल से पूछताछ एवं रुपये जब्त करना चाहती है।

श्यामला हिल्स भोपाल थाने के टीआइ हाकमसिंह ने 24 जून को इंदौर के पुलिस कंट्रोल रूम (रानी सराय) परिसर में एएसआइ रंजना खांडे को गोली मारने के बाद खुद को सर्विस रिवाल्वर से उड़ा लिया था। पत्नी लीलावती के बयान के बाद अजाक पुलिस ने एएसआइ(एम) रंजना, कथित तीसरी पत्नी रेशमा शेख और कपड़ा कारोबारी गोविंद जायसवाल के खिलाफ केस दर्ज किया था। रंजना और रेशमा को तो गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन जायवाल फरार हो गया। उस पर आरोप था कि वह हाकमसिंह के 25 लाख रुपए नहीं लौटा रहा था।

दो बार अग्रिम जमानत खारिज - पुलिस ने जायसवाल की गिरफ्तारी पर इनाम भी घोषित किया और संभावित ठिकानों पर छापे मारे। दो बार अग्रिम जमानत खारिज होने एवं दबाव बनने पर जायसवाल शनिवार को वकील के वेश में कोर्ट पहुंचा और कोर्ट के समक्ष सरेंडर कर दिया। विशेष लोक अभियोजक (एससीएसटी कोर्ट) विशाल श्रीवास्तव के मुताबिक जायसवाल ने उस पर लगे आरोप निराधार बताए और कहा कि पुलिस ने हाकमसिंह के स्वजन के बयानों को आधार बनाकर उसे मुलजिम बनाया है। लेकिन कोर्ट ने अभियोजन पक्ष के तर्कों से समहत होते हुए उसका रिमांड स्वीकृत कर दिया।

युवक की हत्या में दो आरोपित गिरफ्तार

इंदौर। अहीरखेड़ी निवासी 22 वर्षीय अभिषेक बसोर की हत्या के मामले में द्वारकापुरी थाना पुलिस ने आरोपित गोपाल काला और बंटी यादव को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपितों ने शुक्रवार रात किन्नर के साथ रहने के विवाद में चाकू मारकर हत्या कर दी थी। गोपाल को पुलिस ने शुक्रवार देर रात हिरासत में लिया था, जबकि बंटी की एमवाय अस्पताल से गिरफ्तारी ले ली। हमले में बंटी भी घायल हुआ था और उसे पुलिस ने भर्ती करवाया था।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close