इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। 50 वर्षीय डाक्टर जितेंद्र कुमार पिंडोरिया को 15 वर्ष छोटी टीचर लक्ष्मीप्रिया से विवाह करना भारी पड़ गया। बीच फेरे में पत्नी कांता बेटे यशवंत, नंदन और बेटी मोनिका को लेकर जा धमकी और दोनों की चप्पलों से पिटाई कर दी। सेहरा फेंक कर जितेंद्र ने भागने की कोशिश की लेकिन पिता मांगीलाल ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। हालांकि लक्ष्मीप्रिया को उसके स्वजन लेकर फरार हो गए। लक्ष्मीप्रिया डाक्टर के बेटे यशवंत की टीचर है और हास्टल आने के वक्त उससे प्रेम हो गया था। इसी दौरान पंडित और ढोलक वाले सहित सभी लोग भाग गए। भंवरकुआं थाना प्रभारी मनीषा दांगी के मुताबिक, घटना खंडवा रोड स्थित होटल बेवाच की है। डा. जितेंद्र के पिता मांगीलाल को खबर मिली थी कि जितेंद्र सुबह 10 से 12 के बीच लक्ष्मीप्रिया के साथ परिणय सूत्र में बंधने वाला है।

मांगीलाल ने बहू कांता, पोते यशवंत, नंदन, दामाद दिनेश और छोटे बेटे सुमित को किस्सा बताया और अचानक धावा बोल दिया। बाहर खड़े गार्ड और जितेंद्र-लक्ष्मीप्रिया के परिचितों ने टोका तो कहा कि वे मेहमान हैं और शादी में शामिल होने आए हैं। कांता अंदर पहुंची तो जितेंद्र लक्ष्मीप्रिया के साथ मंडप में बैठा दिखाई दिया। उसने हंगामा शुरू कर दिया और कांता व उसकी बेटी ने चप्पलों से पिटाई कर दी। जितेंद्र तो पकड़ में आ गया लेकिन लक्ष्मीप्रिया मौका पाकर वहां से भाग गई। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गई और जितेंद्र को थाने ले आई।

बेटे और पत्नी को बंदूक दिखाकर चुप कर देता था सिरफिरा डाक्टर : एसआइ के मुताबिक, कांता की शिकायत पर जितेंद्र के विरुद्ध प्रकरण दर्ज कर लिया है। कांता ने बताया कि जितेंद्र का लक्ष्मीप्रिया से करीब 10 साल से प्रेम संबंध है। वह बेटे यशवंत को हास्टल में पढ़ाती थी। इसी दौरान दोनों में दोस्ती हुई थी। जितेंद्र कई बार बेटे को कार में बैठाकर उसके सामने ही लक्ष्मीप्रिया से मिलने जाता था। उसने कहा था कि घर पर बताया तो गोली मार कर हत्या कर दूंगा। कांता को भी इसकी जानकारी थी लेकिन उसे भी लाइसेंसी बंदूक दिखाकर चुप कर देता था।

दो दिन पूर्व जितेंद्र ने साले दिनेश को वाट्सएप पर पर्चा भेजा जिसमें दोनों के फोटो छपे हुए थे। उसने कहा मैं शादी कर रहा हूं, तुम भी शामिल होने आ जाना। स्वजन ने समझाने की कोशिश की लेकिन जितेंद्र ने बात करने से ही इन्कार कर दिया। थाने में पूछताछ के दौरान जितेंद्र ने कहा मैं लक्ष्मीप्रिया से प्रेम करता हूं यह सबको पता था। उन्हें शादी से कोई दिक्कत नहीं है। उन्हें शक है हाल में खरीदा प्लाट लक्ष्मीप्रिया के नाम कर दूंगा।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags