इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि । दिगम्बर जैन समाज की सुगन्ध दशमी पर दिगम्बर जैन समाज युवा प्रकोष्ठ ने आचार्य विद्यासागर जिनमंदिरों में इंदौर आगमन पर दर्शन करने गए उनके दर्शन कराए। इसमे 550 पहले इंदौर लाई गई भगवान आदिनाथ की और 176 साल पहले निकली भगवान नेमीनाथ की मूर्ति का इतिहास बताया गया। इस दौरान 39 मंदिरों के दर्शन आनलाइन कराए गए।

दिगम्बर जैन समाज युवा प्रकोष्ठ इंदौर के मार्गदर्शक राहुल सेठी, महामंत्री विकास कासलीवाल, कार्याध्यक्ष सुयोग जैन ने बताया की सुगन्ध दशमी पर आनलाइन तीर्थ एवं जिनमंदिर दर्शन का आयोजन रखा गया। इसके तहत आईटी प्रभारी अदिति जैन और सलोनी जैन ने ऐसी योजना तैयार की थी की वर्ष 2020 में जब आचार्य विद्यासागर महाराज इंदौर आए थे । उन्होंने इंदौर प्रवास के दौरान 11 माह में जिन-जिन मंदिर के दर्शन किए थे। उन सभी मंदिर के दर्शन सुगंध दशमी के दिन समाजजन को उसी मार्ग अनुरूप कराए गए । ऐसी व्यवस्था की गई थी की समाजजन अपने घर मे ही आनलाइन दर्शन कर पाए थे।

आदिनाथ दिगंबर जैन मंदिर कनाडिया रोड की प्रथम स्थापना सन 1979 में हुई थी। उस समय गुना शहर के नजदीक स्थित बजरंगगढ़ गांव से लगभग 550 वर्ष प्राचीन आदिनाथ भगवान की पद्मासन मूर्ती को यहां लाया गया था। फिर उस मूर्ति को यहा स्थापित कर मंदिर की स्थापना हुई थी। ऐसी मान्यता है कि मूर्ति बहुत चमत्कारिक है। इसी तरह 176 साल पहले रामाशाह नामक व्यक्ति को सपना आया था की पीलिया खाल नदी में भगवान नेमीनाथ की मूर्ति है। फिर वहीं से यह मूर्ति निकली थी, इसलिए मंदिर का नाम रामाशाह मंदिर मल्हारगंज हो गया। इसी तरह छावनी के 108 वर्ष प्राचीन अनंतनाथ जिनालय और 118 वर्ष प्राचीन दिगम्बर पंचायती मंदिर के साथ ही अन्य सभी मंदिर का भी इतिहास बताया गया। संचालन राजकुमार वर्षा काला, निधी राहुल जैन, रुचि गोधा, भावना चांदीवाल ने किया था।

तीन स्थान से किया गया संचालन, विद्युत सज्जा और मंडल विधान के दर्शन भी कराए

तीर्थ दर्शन कार्यक्रम को तीन स्थान से संचालित किया गया। इसमें साधना नगर, इतवारिया बाजार और सुभाष नगर शामिल है। पर्व के दोरान मंदिर में आकर्षक विद्युत सज्जा जो की गई है और मंडल विधान की रचना हुई है, उनके भी दर्शन कराए गए थे।

39 मंदिर के दर्शन कराए गए

आनलाइन दर्शन 39 मंदिरों के हुए। इसमे प्रमुख रूप से उदयनगर, गोयल नगर, तिलकनगर, वैभव नगर, कनाडिया छावनी, नसियाजी, खातीवाला टैंक, नेमी नगर जैन कालोनी, सुदामा नगर, गुमास्ता नगर, रामचंद्र नगर, कालानी नगर, अंजनी नगर, स्मृति नगर, संगम नगर, छत्रपतिनगर, उदासीन आश्रम, समवशरण, रामाशाह, चंद्रप्रभू मल्हारगंज, काँच मंदिर, शक्कर बाजार, माणक चोक, क्लर्क कालोनी, रेवती रेंज, परदेशीपुरा, विजय नगर, स्कीम 78 नंबर, पंचबालयती विजय नगर और महालक्ष्मी नगर मंदिर के दर्शन कराए गए है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local