Metro In Indore: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में इस साल अब तक हो रही वर्षा के कारण मेट्राे का काम प्रभावित हो रहा है। अब ट्रायल रन के लक्ष्य में केवल 11 माह बाकी रह गए है। अगले साल सिंतबर में ट्रायल रन प्रस्तावित है, जिसमें अब एमआर 10 से लेकर रेडिसन चौराहे तक ही ट्रेन चलाई जाएगी। पहले यह सुपर कारिडोर से चलनी थी।

मेट्रो प्राेजेक्ट से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि वर्षा के कारण परेशानी आ रही है। हमारे प्रायोरटी ट्रैक पर पिलर बन चुके हैं। अब इन पर सेगमेंट लगाने का काम चल रहा है, लेकिन वर्षा के कारण इसमें परेशानी आ रही है। एमआर 10 के यहां पर लांचर की मदद से सेगमेंट लगाए जा रहे है। इसके अलावा विजय नगर से रेडिसन के यहां पर भी सेगमेंट लगाए जा रहे है। इसके अलावा बापट चौराहे से मेरियट होटल के यहां पर ग्रांउड सपोर्ट सिस्टम की मदद से सेगमेंट लगाए जा रहे हैं, लेकिन वर्षा इसमें परेशानी खड़ी कर रही है। लांचर की मदद से पांच दिन में दो पिलर के बीच में सेगमेंट लगा लिए जाते है, जबकि ग्रांउड सपोर्ट सिस्टम के माध्यम से इसके लगाने में समय लग जाता है।

पहले ही देरी से चल रही हमारी मेट्रो

पहले कंपनियों के ठीक से काम नहीं करने और बाद में कोरोना के कारण हमारे मेट्रो का काम पहले ही देरी से चल रहा है। हालांकि अधिकारियों का दावा है कि इंदौर और भोपाल की मेट्रो का काम एक साथ पूरा हो जाएगा। अगले साल ट्रायल रन के बाद कुछ कमियां सामने आएगी, जिन्हें सुधार लिया जाएगा। हालांकि अधिकारियों का यह भी कहना है कि अगले साल ट्रायल रन ही होगा। यात्रियों को इस बहुप्रतिक्षित लोक परिवहन में सफर करने के लिए अभी इंतजार करना होगा। उधर गांधी नगर डिपो बनाने का काम भी जारी है। वहां पर 28 ट्रेनों को खड़े करने की क्षमता होगी।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close