- आमतौर पर जून के आखिरी रविवार को होते हैं यशवंत क्लब के चुनाव

Yashwant Club Election इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर में कुलीनों के यशवंत क्लब में हर बार जून के आखिरी रविवार को होते हैं। मगर इस ऐतिहासिक क्लब की यह चुनावी परंपरा इस बार टूटने की संभावना है। इस बार चुनाव 19 जून या तीन जुलाई को हो सकते हैं। आधिकारिक फैसला शुक्रवार को होने वाली प्रबंधकारिणी की बैठक में होगा।

यशवंत क्लब में हर दो साल में चुनाव होते हंै, लेकिन कोरोनाकाल के चलते इस बार चार साल बाद यहां चुनाव हो रहे हैं। इस बार मुकाबला वर्तमान चेयरमैन पम्मी छाबड़ा और टोनी सचदेवा की पैनलों के बीच है। पिछली बार भी इन्हीं में टक्कर थी और छाबड़ा ने मतदाताओं का दिल जीता था। इस बार यशवंत क्लब चुनाव के बीच ही नगरीय निकाय चुनाव की भी चर्चा है। ऐसे में क्लब के चुनाव जून के आखिरी रविवार के बजाए अन्य दिन हो सकते हैं। सूत्रों के अनुसार 19 जून या तीन जुलाई को चुनाव कराए जा सकते हैं। इसे लेकर आधिकारिक फैसला लेने के लिए प्रबंधकारिणी की बैठक शुक्रवार को होगी। इसी दिन चुनाव अधिकारी के नाम पर भी मुहर लगेगी।

छाबड़ा पैनल ने कार्यकारिणी के लिए तय किए नाम

वर्तमान चेयरमैन पम्मी छाबड़ा की पैनल को इस बार दबाव की राजनीति का सामना करना पड़ा। कार्यकारिणी के पांच पदों के लिए उनके कई प्रत्याशियों ने विभिन्न कारणों से नाम वापस ले लिए थे। जिसके बाद चर्चा थी कि प्रत्याशियों पर नाम वापस लेने का दबाव था। इस बीच छाबड़ा पैनल ने पांचों पदों के लिए नए नाम तय कर लिए हैं। इनमें अनिमेश सोनी, नितेश गुप्ता, शिखर वर्मा, मनीष महासे, डा. मनोज पहाड़िया शामिल हैं।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close