Today in Indore: इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। इंदौर में धार्मिक-सामाजिक, राजनैतिक और सांस्कृतिक संगठनों के कार्यक्रम 27 नवंबर को आयोजित किए जाएंगे। इसमें पं. प्रदीप मिश्रा सिहोरवाले की शिव महापुराण कथा होगी। सिंधी समाज का सम्मान समारोह और मलयाली समाज की मंडल पूजा में समाजजन भाग लेंगे। साथ ही भागवत कथा का समापन दिव्यशक्ति पीठ पर होगा।

- मलयाली भाषियों की 60 दिनी मंडल पूजा महालक्ष्मी नगर स्थित श्री गणेश एवं अयप्पा मंदिर में होगी। इसमें सुबह 6 से 9 बजे तक विभिन्न पूजा होगी। शाम को 7.30 बजे दीप आराधना होगी।

- सिखों के नौंवे गुरु तेग बहादुर साहिब का बलिदानी दिवस के उपलक्ष्य में कीर्तन दीवान गुरु अमरदास हाल, गुरु गोविंद सिंह मार्ग पर सजेगा। कीर्तन दीवान सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक सजेगा। इस बार लेखन प्रतियोगिता का आयोजन भी होगा। इसका विषय "तिलक और जनेऊ के रक्षक गुरु तेग बहादुर साहिब" रखा गया है।

- सिंधी समाज का प्रतिभा सम्मान समारोह सुबह 11 बजे देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के खंडवा रोड स्थित कंप्यूटर साइंस सभागृह में आयोजित किया जाएगा। इसमें प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को सम्मानित करेंगे। इसके अतिरिक्त 12वीं में सर्वोच्च अंक लाने वाले तीन विद्यार्थियों को लैपटाप दिया जाएगा। इस अवसर पर चित्रकला, खेलकूद, संगीत के क्षेत्र में उपलब्धि हासिल करने वालों भी सम्मानित करेंगे।

- सात दिनी शिव महापुराण कथा दलालबाग, किला मैदान रोड पर दोपहर 2 बजे से होगी। कथावाचक पं. प्रदीप मिश्रा सिहोरवाले कथा सुनाएंगे। चार लाख वर्गफीट में लगे पंडाल में डेढ़ लाख लोगों के लिए बैठक व्यवस्था रहेगी। प्रवेश छह गेट से होगा। आयोजन स्थल पर नागरिकों की सुविधा के लिए 125 सुविधाघर का भी निर्माण कराया गया है। अलग-अलग स्थानों पर 50 एलइडी स्क्रीन भी लगाई गई है। यह स्क्रीन आठ बाय 10 की है।

- पुस्तक मेले का आयोजन सम्राट होटल एमजी रोड पर सुबह 11 बजे से होगा। इसमें विभिन्न विषयों पर आधारित दो लाख किताबों को परखने का अवसर मिलेगा। किताबें धर्म-विज्ञान, किस्से, कहानियों और कविताओं पर आधारित है।

- एमआर-10 रोड स्थित दिव्य शक्तिपीठ पर स्वामी नलिनानंद गिरि के श्रीमुख से श्रीमद भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का आयोजन होगा। कथा प्रतिदिन शाम 5.30 से रात 8 बजे तक होगी। स्वामी नलिनानंद का वाशिंगटन (अमेरिका) में आश्रम है। वे तीसरी बार भारत यात्रा पर आए हैं।

Posted By: Hemraj Yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close