इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। एटीएम और डिपाजिट मशीन से छेड़छाड़ कर बैंकों को लाखों की चपत लगाने वाला गिरोह मेवात (हरियाणा) का निकला। पुलिस बैंक खातों और उनमें दर्ज मोबाइल नंबरों के आधार पर आरोपितों को तलाश रही है। आशंका है कि इस गिरोह ने अन्य शहरों में भी इसी प्रकार ठगी की है।

सराफा थाना पुलिस ने एसबीआइ के बैंक मैनेजर की शिकायत पर दो अज्ञात बदमाशों पर दो लाख 30 हजार रुपये की धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया था। पुलिस ने बैंक अफसरों से बातचीत की तो बताया कि जिन खातों में जमा व निकासी हुई वो सभी खातें मेवात के हैं। इससे शक है बदमाश भी मेवात के ही और इस पर ठगी करते है। आरोपित एक शहर से दूसरे शहर जाते रहते हैं।

ऐसे लगाई बैंक को लाखों की चपत

आरोपित पर ज्यादातर डिपाजिट मशीन का उपयोग करते हैं। इस मशीन में विड्राल की सुविधा भी रहती है। आरोपित पहले स्वयं के खाते में 10 से 20 हजार रुपये जमा कर देते हैं। थोड़ी देर बाद उसमें से 10 हजार रुपये निकालते हैं। जैसे ही मशीन रुपये गिनकर ट्रे से बाहर निकालती है। आरोपित ऊंगली फंसा देते हैं। इससे मशीन ऐरर बताती है और रुपये भी बाहर निकल आते हैं। इस प्रकार आरोपित बैंकों से तकनीकी गड़बड़ी का फायदा उठाकर जमकर धोखा करते हैं।

इन जगहों पर हुई लाखों की धोखाधड़ी

-राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र में हुई वारदात।

-अन्न्पूर्णा नगर थाना क्षेत्र में हुई वारदात।

-सराफा थाना क्षेत्र में हुई वारदात।

पहले एटीएम की बिजली सप्लाय बंद कर की ठगी

इसके पहले ठगों का बैंक को चपत लगाने का तरीका दूसरा था। आरोपित एटीएम मशीन से रुपये निकालते हैं। जैसे ही रुपयों से भरी ट्रे बाहर आती तो पावर सप्लाय बंद कर देते थे। इससे मशीन ऐरर बताती देती थी। आरोपित रुपये ले लेते थे और कस्टमर केयर पर शिकायत कर रिफंड जमा करवा लेते थे।

Posted By: gajendra.nagar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags