इंदौर। नईदुनिया प्रतिनिधि। पुलिस ने लक्जरी कारें चुराने वाले हाईटेक वाहन चोर गिरोह के सदस्य श्रवण विश्नोई को गिरफ्तार किया है। गिरोह का सरगना जालौर का चौथी पास गणपत विश्नोई है जो हथियार और चाबी के बगैर कोडिंग सॉफ्टवेयर से दो से तीन मिनट में कार अनलॉक कर देता है। चोरों ने मंगलवार तड़के डिजिटल मार्केटिंग कंपनी के संचालक भरत आहुजा की कार(क्रेटा) इसी तरह चुराई थी। पुलिस ने नाकाबंदी करवाई लेकिन गणपत बैरिकेड तोड़ते हुए साथी पप्पू के साथ फरार हो गया।

राजेंद्रनगर थाना टीआइ अमृता सोलंकी के मुताबिक स्कीम-103 निवासी भरत आहुजा की कार(एमपी 09डब्ल्यूसी 6489) घर के बाहर खड़ी हुई थी। भाई पुनीत बेटी को स्कूल छोड़ने के लिए उठे तो कार गायब देख सकते में आ गए।सीसीटीवी फुटेज देखने सफेद रंग की कार(क्रेटा) से आए तीन बदमाश भरत की कार चुराकर भागते दिखे। भरत ने तत्काल टीआइ अमृता सोलंकी को खबर की । कुछ ही घंटों बाद दलौदा(मंदसौर) पुलिस ने फोन कर बताया भरत की कार को नयाखेड़ा से बरामद कर वाहन चोर श्रवण विश्नोई को भी गिरफ्तार कर लिया है।

हालांकि गाड़ी अनलॉक करने वाला गणपत लेपटॉप और डिवाइस लेकर भागने में सफल हो गया। उसकी कार में पप्पू और तीन अन्य ड्राइवर थे जो तीन कार चुराने के मकसद से इंदौर आए थे।टीआइ ने श्रवण के मोबाइल की लोकेशन निकाली तो पता चला वह राजेंद्रनगर से पहले भी कार चुरा चुका है। उसकी लोकेशन भी घटना के वक्त इंदौर में ही मिली।श्रवण व गणपत इसके पूर्व अहमदाबाद में 20 गाड़ियां चुराने के आरोप में पकड़ा जा चुका है।

एसआइ ने सड़क पर जाम लगाकर पकड़ा वाहन चोर

टीआइ अमृता सोलंकी ने मांगलिया,पीथमपुर,बेटमा टोलनाकों पर कॉल भरत की कार का नंबर बताया और पुलिस रवाना कर दी। बेटमा टोलनाका से खबर मिली की यह कार तो थोड़ी देर पहले ही यहां से निकली है। टीआइ ने मननखेड़ी और पिपल्यामंडी टोल पर कॉल लगा दिया। खबर मिलते ही मंदसौर पुलिस अलर्ट हो गई और दालौदा थाना प्रभारी संजीवसिंह परिहार ने थाने के सामने बैरिकेड लगवा दिए।

इसके बाद भी बदमाश ने बैरिकेड तोड़ते हुए फरार हो गए।एसआइ परिहार ने ग्रामिणों को कॉल कर नयाखेड़ा पेट्रोल पंप के समीप सड़क पर जाम लगवा दिया।घेराबंदी देख श्ववण गाड़ी छोड़ कर खेतों में भाग गया।एसआइ ने ओपी राठौर,अजय,राकेश शर्मा,उमंग और संदीप की अलग अलग टीमें बनाई और चारों तरफ से घेर लिया। एसआइ ने एक इमारत पर चढ़ गए देखा तो श्रवण खेत में लेटा हुआ था। ऊपर से इशारा मिलते ही जवानों ने ग्रामीणों की मदद से आरोपित को दबोच लिया।

7 मिनट में अनलॉक कर चुरा ले गया कार

आरोपित मंगलवार तड़के 4:45 बजे सफेद रंग की कार से आए और भरत के घर के आसपास चक्कर लगाए। ठीक 4:49 बजे कार के समीप चोरों ने खुद की कार लगाई और तीन बदमाश उतरें। एक ने लेपटॉप से भरत की कार अनलॉक की और दूसरा स्टार्ट कर रवाना हो गया। आरोपित 7 मिनट में कार ले गए।

पुलिस विजयनगर,खजराना,राजेंद्रनगर,लसूड़िया क्षेत्र में हुई लक्जरी कारों के बारे में श्रवण से पूछताछ कर रही है। उसने हवाला और ड्रग सप्लाय में शामिल होना भी स्वीकार लिया है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local