इंदौर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हिमालय से आ रही बर्फीली हवाओं के कारण इंदौर में पिछले चार दिन से ठिठुरन की स्थिति कायम है। गुरुवार को शहर में 10 से 12 किलोमीटर प्रतिघंटा की गति से उत्तरी-पूर्वी हवाओं हवाएं चली और दोपहर 12 बजे के बाद से शाम तक आर्द्रता 30 प्रतिशत के आसपास होने के कारण 'सूखी ठंड' या 'चुभन वाली सर्दी' का अहसास भी हुआ। इंदौर में लगातार चौथे दिन तीव्र शीतल दिन की स्थिति रही।

बुधवार की रात इस वर्ष जनवरी की सबसे सर्द रात रही। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इंदौर में शुक्रवार को भी तीव्र शीतल दिन रहने की संभावना है। गुरुवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 6.8 डिग्री दर्ज किया गया। यह पहला मौका है जब इस वर्ष जनवरी माह में न्यूनतम तापमान इतने कम स्तर पर पहुंचा है।

इंदौर में इसके पहले वर्ष 2019 में न्यूनतम तापमान जनवरी माह में 5.6 डिग्री तक पहुंचा था। गुरुवार सुबह शहर में धुंध का असर रहा और दृश्यता 2000 मीटर तक दर्ज की गई। भोपाल स्थित मौसम केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा के मुताबिक इंदौर में शुक्रवार को भी तीव्र शीतल दिन की स्थिति बरकरार रहेगी। इस वर्ष जनवरी माह में लगातार पश्चिमी विक्षोभ के आने के कारण इंदौर सहित प्रदेशभर में ठंड का तीव्र असर दिखाई दे रहा है। इसी कारण इंदौर में जनवरी माह में अब तक 10 दिन में से सात दिन 'तीव्र शीतल दिन' व तीन दिन ' शीतल दिन' वालेरहे।यह पहला मौका है जब जनवरी माह में इतनी ज्यादा संख्या में शीतल दिन रहे है।

इंदौर में जनवरी माह में इस वर्ष शीतल व तीव्र शीतल दिन

10 जनवरी- तीव्र शीतल दिन

11 जनवरी - तीव्र शीतल दिन

12 जनवरी- तीव्र शीतल दिन

13 जनवरी- शीतल दिन

14 जनवरी- शीतल दिन

15 जनवरी- शीतल दिन

24 जनवरी- तीव्र शीतल दिन

25 जनवरी- तीव्र शीतल दिन

26 जनवरी- तीव्र शीतल दिन

27 जनवरी- तीव्र शीतल दिन

पिछले 10 वर्षों में इंदौर शहर में न्यूनतम तापमान

वर्ष न्यूनतम तापमान

2012 5.4

2013 5.8

2014 6.7

2015 6.9

2016 7.3

2017 6.3

2018 8.0

2019 5.6

2020 7.1

2021 7.2

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local