इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ट्रैफिक पुलिस नगर निगम की मदद से एबीरोड पर रसोमा चौराहे से रिंग रोड़ तक सड़क के बीच अब बेहद जल्द डिवाइडर बनेंगे। वहीं इन डिवाइडर के बीच उजाले के लिए सेंट्रल लाइटिंग भी लगाने की प्लानिंग है। दरसअल अब तक आधे- अधूरे डिवाइडर के बीच खाली जगह में आसपास के लोग और व्यापारी गाड़ियां पार्क कर रहे थे। वहीं करीब डेढ़ साल बाद भी निगम आधे हिस्से में सुरक्षा डिवाइडर नहीं बना पाया था, जिसके कारण आए दिन यहां छोटे -मोटे हादसे और दुर्घटनाएं हो रही थी।

दरसअल शार्ट कट लेने और जल्दबाजी में अक्सर लोग रांग साइड से होकर भी निकल जातें है। वहीं आसपास के व्यापारियों और रहवासियों का कहना है लंबे समय से हालत खराब थी फिर भी कोई भी ध्यान नहीं दें रहा था। जहां डिवाइडर बनाकर बीच में हरियाली करना थी, वहां लोग गाड़ियां खड़ी कर रहे थे, क्योंकि एबी रोड से रिंग रोड़ को लिंक करने वाली इस रोड़ पर दिनभर जबरदस्त ट्रैफिक रहता है। उसके बावजूद निगम द्वारा लंबे समय से यहां के काम की अनदेखी की जा रही थी।

हालांकि अब निगम द्वारा जल्द यहां के बड़े हिस्से में दुर्घटना और हादसों में ब्रेक के लिए बीच के हिस्से में डिवाइडर बनेंगे, जिससे क्षेत्र के लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। रिंग रोड़ से जुड़ी ज्यादातर लिंक रोड़ पर आधे से ज्यादा हिस्से में इतने सालों बाद भी डिवाइडर नहीं बन पाए, जिसके कारण यहां आए दिन वाहन चालकों में भिंडत होती रहती है। वहीं रिंग रोड़ पर खजराना और विजय नगर के बीच बनी ज्यादातर लिंक रोड़ बदहाल भी हो रही हैं। कहीं डिवाइडर नहीं है तो कहीं एक फीट से भी छोटे डिवाइडर बने हैं। वहीं ज्यादातर लिंक रोड़ से जुड़ी जगहों की सड़कों पर अंधेरा भी पसरा रहता है, क्योंकि यहां आधी से ज्यादा सेंटर लाइट लंबे समय से बंद पड़ी है। कई जगह लाइट ही नहीं है। यही नहीं डिवाइडर बनाने का प्रोजेक्ट भी सालों से अटका पड़ा है। अब कई जगह एक साथ काम शुरू करने की तैयारी है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local