Cut Off Medical College: इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नीट यूजी परीक्षा में सफल होने वाले छात्रों के लिए स्टेट कोटा की सीट के लिए काउंसिलिंग की प्रक्रिया शुरू हो गई है। मुख्य काउंसिलिंग भी जल्द शुरू होगी। इस समय माता-पिता और विद्यार्थी यह अंदाजा लगा रहे हैं कि आखिर कितने अंकों पर कौन से कालेज प्रवेश मिल सकता है। इस वर्ष नेट परीक्षा में नौ लाख से अधिक विद्यार्थी क्‍वालिफाई हुए हैं जो अब मेडिकल कोर्सेस में दाखिले के लिए काउंसलिंग में शामिल होंगे। एमबीबीएस कोर्स में एडमिशन पाना चाहते हैं, उनका नीट स्‍कोर अच्‍छा होना बहुत जरूरी है।

विशेषज्ञ डा. जीएस ठकराल का कहना है कि कट ऑफ परीक्षा में शामिल हुए उम्‍मीदवारों की संख्‍या और उनके प्रर्दशन समेत कई अन्‍य बातों पर निर्भर करता है। सरकारी सीट पर एडमिशन पाना चाहते हैं तो स्‍कोर 620 से कम नहीं होना चाहिए। इसके अलावा स्‍टेट कोटा की सीटों पर 590 तक के स्‍कोर वाले जनरल कैंडिडेट्स सरकारी सीट पर एडमिशन पा सकेंगे।

स्‍टेट कोटा की काउंसलिंग में भी कटऑफ में 10 नंबरों तक का ही फर्क आता है। डेंटल कोर्स में सीटें कम हैं इसलिए स्‍कोर अच्‍छा होना बहुत जरूरी है। जल्‍द ही आल इंडिया कोटा सीटों पर एडमिशन के लिए काउंसलिंग शुरू होगी। उम्‍मीदवार mcc.nic.in पोर्टल पर इसकी जानकारी ले सकेंगे। काउंसलिंग प्रक्रिया अक्‍टूबर के पहले हफ्ते में प्रारंभ हो सकती है।

Posted By: Sameer Deshpande

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close