इटारसी (नवदुनिया प्रतिनिधि)। शुक्रवार को जबलपुर जोन के उपमहाप्रबंधक शोभन चौधरी ने यहां तैयार हो रहे मालवाहक ट्रेनों के ग्रेड सेपरेटर का काम देखा। इधर डीआरएम सौरभ बंदोपाध्याय ने इटारसी-बानापुरा रेलखंड के बीच विंडों निरीक्षण किया। मंडल रेल प्रबंधक सौरभ बंदोपाध्याय ने सभी विभाग प्रमुखों के साथ शुक्रवार को इटारसी-बानापुरा रेलखंड का विंडो निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मण्डल रेल प्रबंधक ने इस रेलखंड पर स्थित पुल, रेल पथ, ओएचइ एवं सिग्नल प्रणाली का सघन निरीक्षण किया। संरक्षा उपकरणों की जांच एवं सुधार के निर्देश दिए।

सफाई में सुधार लाने की नसीहत

स्टेशन निरीक्षण करने के दौरान डीआरएम ने साफ सफाई, स्टेशन पर उपलब्ध यात्री सुविधाओं एवं सेवाओं की जानकारी ली। लाबी निरीक्षण के दौरान डीआरएम ने कर्मचारियों के लिए उपलब्ध सुविधाओं एवं सेवाओं का जायजा लिया। लाबी कर्मचारियों से सुरक्षा एवं संरक्षा नियमों के संबंध में पूछताछ की। मालगोदाम निरीक्षण के दौरान डीआरएम ने यहां पर उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया और जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए। व्यापारियों की समस्या पर जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया। बनापुरा में सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी मोड) के तहत विकसित किए जा रहे आधुनिक माल गोदाम का निरीक्षण कर कार्य की प्रगति एवं मालगोदाम में उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं का जायजा लिया। पीपीपी मोड के तहत प्लेटफार्म सरफेसिंग, परिसर, ड्रेनेज, हाइमास्ट के साथ लाइटिंग, नए व्यापारी कक्ष के साथ कामगारों के लिए सुविधाओं में सुधार के साथ बानापुरा माल गोदाम को विकसित किया जा रहा है। इस अवसर पर वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबंधक प्रियंका दीक्षित, वरिष्ठ मण्डल विद्युत इंजीनियर (टीआरओ) संजय तिवारी, मण्डल इंजीनियर (दक्षिण) वशीम मोहम्मद, मण्डल परिचालन प्रबंधक शशांक गुप्ता मौजूद रहे।

ऐसे सुगम होगा माल परिवहन यातायात

पमरे अपर महाप्रबंधक शोभन चौधरी ने शुक्रवार को यहां बन रहे नार्थ-साउथ अप-डाउन ग्रेड सेपरेटर का निरीक्षण कर निर्माण कार्य की प्रगति का जायजा लिया, काम में लापरवाही और देरी को लेकर उन्होंने नाराजगी जताई। इस मौके पर डीआरएम बंदोपाध्याय के साथ निर्माण-परिचालन विभाग के अधिकारी भी साथ रहे। मालवाहक ट्रेनों का परिचालन निर्बाध और सुगम बनाने के लिए इटारसी नार्थ-साऊथ अप साइड ग्रेड सपरेटर का निर्माण किया जा रहा है। नागपुर दिशा में जाने वाले अप दिशा ग्रेड सेपरेटर की लंबाई 12 किमी है। इस ग्रेड सेपरेटर में 3 मेजर ब्रिज, 26 माइनर ब्रिज, 9 आरयूबी (रोड अंडर ब्रिज), 3 स्टेशन बिल्डिंग काम काम हो रहा है।इटारसी नार्थ-साउथ डाउन साइड ग्रेड सेपरेटर का भी काम जारी है। नागपुर दिशा से आने वाले इस इटारसी नार्थ-साउथ डाउन साइड ग्रेड सेपरेटर की लंबाई 16 किमी है। इस ग्रेड सेपरेटर में 4 मेजर ब्रिज, 41 माइनर ब्रिज, 7 आरयूबी (रोड अंडर ब्रिज) एवं 5 स्टेशन बिल्डिंग बन रहे हैं।इटारसी नार्थ-साउथ अप साइड ग्रेड सेपरेटर का काम साल 2023 तक पूरा करने का लक्ष्‌य रखा गया है। इन ग्रेड सेपरेटरों की परियोजना से रेलवे को कई फायदे होंगे। नागपुर दिशा का माल यातायात इटारसी स्टेशन को बायपास करते हुए चलाया जाएगा। रेलखंड ट्रेक की क्षमता में वृद्धि होगी। यह परियोजना मालवाहक ट्रेनों के संचालन में बढ़ोतरी और गति प्रदान करेगी। रेल राजस्व में बढ़ोतरी के साथ कम समय में माल गंतव्य तक भेजा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close