इटारसी। त्रिवेंद्रम से गोरखपुर जा रही गोरखपुर एक्सप्रेस 12512 में देर शाम फूड पॉइजनिंग से 45 से ज्यादा यात्रियों की हालत बिगड़ गई।यात्रियों को नागपुर में रेलवे के डाक्टरों ने चिकित्सकीय परीक्षण और उपचार कर आगे की यात्रा के लिए रवाना कर दिया है। सभी यात्रियों की हालत सामान्य बताई जा रही है।

सूत्रों के मुताबिक आज देर शाम गोरखपुर एक्सप्रेस जैसे ही नागपुर के करीब पहुंची तो यात्रियों को पेट में दर्द, उल्टी और मितली की शिकायत होने लगी। इस शिकायत के बाद नागपुर रेलवे स्टेशन पर भेजी गई शिकायत के बाद छह डाक्टरों के दल ने सभी यात्रियों का उपचार किया।

बीमार हुए यात्री ट्रेन के एस 7 ,8,और 9 के बताए जा रहे हैं। रेलवे के सहायक वाणिज्यिक प्रबन्धक राव ने फूड पॉइजनिंग की पुष्टि की है।उन्होंने बताया कि सभी यात्री स्वस्थ हैं।

इधर रेलवे के नागपुर मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अनिल वाल्डे ने बताया कि एस 7 में हुई इस समस्या के बाद 5 बजकर 24 मिनट पर गाड़ी नागपुर पहुंचने पर रेलवे के चिकित्सक डॉ प्रसन्ना, डॉ हरीश ने यात्रियों का उपचार किया। करीब 75 यात्रियों को ओआरएस के पॉकेट दिए गए। उन्होंने बताया कि यात्रियों को अंडा बिरयानी देने के बाद यह समस्या सामने आई है।

रेलवे भोपाल और इटारसी स्टेशन पर यात्रियों की जांच करने के मैसेज पर रात 11 बजे इटारसी में एसडीएम हरेंद्र नारायण, जीआरपी आरपीएफ एवम सिटी पुलिस ने रेलवे सिविल एवं जिला अस्पताल की मेडिकल टीम ने बीमार यात्रियों का इलाज किया। अलर्ट पर स्टेशन को रखा गया था। पूरा स्वास्थ्य अमला यहां तैनात रहा।

Posted By: