इटारसी नवदुनिया प्रतिनिधि।

सख्त नसीहत होने के बावजूद कई वाहन चालक रेलवे के बंद फाटक के बूम को तोड़कर रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचाते हैं। भोपाल मंडल में ऐसे 13 मामले आरपीएफ ने दर्ज किए हैं, जिनमें से 7 मामलों में न्यायालय ने ढाई लाख रुपये का जुर्माना किया है। भोपाल मंडल में समपार फाटकों पर बूम क्षतिग्रस्त होने की घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए मंडल रेल प्रबन्धक सौरभ बंदोपाध्याय के मार्गदर्शन में मंडल सुरक्षा आयुक्त बी राम कृष्णा के नेतृत्व में रेल सुरक्षा बल द्वारा पंपलेट बांटे जा रहे हैं।स्थानीय लोगों, वाहन चालकों को समपार फाटक पार करते समय सावधानियां बरतने व रेल नियमों का पालन करने के लिए विशेष जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत लेवल क्रासिंग से गुजरने वाले वाहन चालकों को समझाइश दी जा रही है। जागरूकता लाने के लिए संरक्षा संबंधी नियमों के पर्चे बांटे जा रहे हैं। कुछ वाहन चालकों द्वारा लापरवाही पूर्वक बन्द फाटक के बूम को तोड़कर फाटक पार करने का प्रयास किया जाता है। माह जनवरी 2021 से 19 सितंबर 2021 तक सड़क वाहन चालकों द्वारा समपार फाटकों के बूम क्षतिग्रस्त कर रेल संपत्ति का नुकसान करने के मामलों में रेल सुरक्षा बल भोपाल मंडल द्वारा वैधानिक कार्यवाही करते हुए रेल अधिनियम की धारा 160, 154 के अंतर्गत कुल 13 मामले दर्ज किये गए, जिनमें से न्यायालय द्वारा 7 मामलों का निपटारा करते हुए वाहन चालकों पर ढाई लाख रुपये का जुर्माना किया गया। 03 मामले न्यायालय एवं आरपीएफ में लंबित हैं।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबन्धक विजय प्रकाश ने बताया कि रेल सुरक्षा बल द्वारा लेवल क्रासिंग गेट को बंद-खोलते समय बूम क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में रेल अधिनियम की धारा 154 के तहत एवं बंद गेट को क्षतिग्रस्त करने की स्थिति में रेल अधिनियम की धारा 160 के तहत मामला दर्ज किया जाता है। आरपीएफ द्वारा समपार फाटकों की घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए वैधानिक कार्यवाही कर एवं जागरूकता अभियान चलाकर नियंत्रित करने का अभियान चल रहा है। मंडल में मानव रहित सभी फाटकों को समाप्त कर दिया गया है, मानव सहित फाटकों में बिजी ट्रेफिक वाले फाटकों को भी खत्म किया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local