इटारसी (होशंगाबाद), नवदुनिया प्रतिनिधि। केंद्रीय रेल मंत्रालय की कौशल विकास योजना का शुभारंभ गुरुवार को रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने किया। देश मे रेलवे के 75 रेल डिपो में युवाओं के लिए साथ इस योजना की शुरुआत की गई। विश्वकर्मा जयंती एवं पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर यह योजना शुरू हुई है। वर्चुअल कार्यक्रम इटारसी के डीजल शेड एवं विधुत लोको शेड में किया गया। रेलमंत्री अश्‍वनी वैष्णव ने समस्तीपुर, बनारस समेत कई केंद्रों पर तकनीकी प्रशिक्षण लेने वाले युवाओं से बात की और उनका हौंसला बढ़ाया। उन्होंने युवाओं से उनके ट्रेड की जानकारी ली, साथ ही कहा कि आप किसी भी काम को मन लगाकर कीजिए या फिर उसे छोड़ दीजिए। देश के विभिन्न्न राज्यों से आवेदन करने वाले युवाओं से रेलमंत्री ने बात की।

इस योजना को भारत सरकार द्वारा आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के युवाओं को उद्योग आधारित कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। जिससे कि वह रोजगार प्राप्त करने में सक्षम बन सके। यह प्रदेश के युवाओं के कौशल बढ़ने में और आत्मनिर्भर बनाने में कारगर साबित होगी। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के युवा अपनी शिक्षा पूरी करके निशुल्क कौशल प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे एवं नए उद्योगों में रोजगार के बेहतर अवसर पाने में सक्षम बन सकेंगे। इसके अलावा युवा राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में भागीदार भी बनेंगे। बनारस रेल इंजन कारखाना का प्राविधिक प्रशिक्षण केंद्र यह सुनिश्चित करेगा कि इस योजना के अंतर्गत युवाओं को सक्षम बनाने में सभी प्रकार की सुविधाएं प्रदान की जा रही है या नहीं। इस योजना का संचालन रेल मंत्रालय द्वारा किया जाएगा।

लगभग 50000 युवाओं को इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से लगभग 100 घंटे की कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण प्रदान करने के बाद युवाओं को सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जाएगा। यह प्रशिक्षण विभिन्न प्रशिक्षण केंद्र के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local