पेज 15 की लीडः

- अवैध होर्डिंग्स पर नपा के अफसर नहीं कर रहे कार्रवाई, शासन के आदेश से हड़कंप

इटारसी। नवदुनिया प्रतिनिधि

नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा प्रदेश के सभी शहरों से अवैध होर्डिंग्स सख्ती से हटाने का फरमान आते ही शहर के होर्डिंग्स मालिकों में हड़कंप मच गया है। यहां करीब 6 सालों में वैध-अवैध होर्डिंग्स की बाढ़ आ गई है। कई साल पहले नपा राजस्व विभाग में होर्डिंग्स शुल्क देकर संचालकों ने नपा के सरकारी कॉम्प्लेक्स, निजी इमारतों एवं सड़कों के किनारे होर्डिंग्स फ्रेम का जाल बिछा डाला। नपा ने पिछले तीन साल से होर्डिंग्स नीलामी ही नहीं की, न ही अनुमति रिन्यू की, इसके बावजूद धड़ल्ले से होर्डिंग्स का कारोबार फल फूल रहा है।

होर्डिंग्स मालिक पहले दो चार की अनुमति लेते हैं। इसकी आड़ में दर्जनों फ्रेम लग देते हैं। तीन साल से एक भी होर्डिंग्स की रसीद नहीं काटी गई। सूत्रों के अनुसार राजस्व विभाग के कुछ अधिकारी टेबल के नीचे से उपकृत होते हैं और कार्रवाई नहीं करते। शहर के कॉलोनइजर्स, ज्वेलर्स, बड़े कारोबारी सालाना पैसा देकर होर्डिंग्स किराए पर लेते हैं, लेकिन शासन को किराया नहीं मिलता है। इस कारोबार में हर माह लाखों रुपए के वारे-न्यारे हो रहे हैं।

सभापति ने उठाई मांग

पूर्व राजस्व सभापति राकेश जाधव ने एक साल पहले लोकेशन के हिसाब से होर्डिंग्स की नीलामी करने की मांग उठाई थी, यदि सारे होर्डिंग्स वैध कर दिए जाएं तो नपा को लाखों रुपए प्रतिमाह की आवक हो सकती थी, लेकिन अफसरों ने कभी एक्शन नहीं लिया। कुछ साल पहले एसडीएम की सख्ती पर सभी होर्डिंग्स पर पेंटरों से वैधता अनुमति एवं सीरियल नंबर डालने का अभियान भी चला, लेकिन अफसरों ने लीपापोती कर दी।

घरों पर भी लगे फ्लेक्स

शहर की प्राइम लोकेशन के मकानों की छतों पर भी होर्डिंग्स लगे हैं, इन्हें संचालक किराया देते हैं। नपा में पार्षदों ने मांग उठाई थी कि ऐसे भवनों पर कामर्शियल टैक्स लगाएंगे, लेकिन इस मामले में भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। कई स्कूल संचालकों ने पब्लिसिटी के लिए होर्डिंग्स लगाए हैं।

यहां लगे हैं होर्डिंग्स

नेशनल हाईवे से लेकर कृषि उपज मंडी परिसर, जयस्तंभ चौक स्थित नपा के शासकीय कॉम्पलेक्स की छतों के अलावा, बस स्टेंड, रेलवे स्टेशन रोड, न्यूयार्ड, पुरानी इटारसी समेत कई जर्जर इमारतों पर भी फ्लेक्स की हेवी फ्रेम लगाई गई हैं। इस कारोबार में शहर के कई नेता, कारोबारी और बड़े लोग शामिल हैं, कार्रवाई होते ही दबाब डालकर अफसरों को रोका जाता है।

शासन खुद करता रहा उपयोग

पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान से लेकर मौजूदा सीएम कमलनाथ की सरकारी योजनाओं के फ्लेक्स भी अवैध फ्रेम में लगते रहे, इसी तरह निर्वाचन आयोग के चुनावी फ्लेक्स के लिए भी शासन अवैध होर्डिंग्स टांगता रहा।

फैक्ट फाइल

शहर में होर्डिंग्स संख्याः 70

वैध संख्याः 16-20

कार्रवाई करेंगे

शासन के निर्देश जारी हुए हैं, शहर की सभी लोकेशन पर लगे होर्डिंग्स की जांच के बाद इन्हें हटाने की कार्रवाई होगी। पत्र आया है, कुछ होर्डिंग्स को पीआईसी दरों पर शुल्क लेकर अनुमति मिली है, उन्हें नहीं हटाएंगे। एक सप्ताह में यह कार्रवाई होगी।

- हरिओम वर्मा, सीएमओ।

कार्रवाई होना चाहिए

हमने परिषद में सभी होर्डिंग्स की लोकेशन के हिसाब से खुली नीलामी करने की मांग की थी, लेकिन अफसरों ने ध्यान नहीं दिया। अवैध होर्डिंग्स हटाए जाना चाहिए। वैध होर्डिंग्स की सही नीलामी हो तो इससे नपा को आय मिलेगी।

- राकेश जाधव, स्वास्थ्य सभापति।

फोटो नेम..03 आईटी 01-02

इटारसी।इस तरह शहर में वैध अवैध होर्डिंग्स का जाल फैला हुआ है।

000000

भाजपा नेताओं ने लिया योजनाओं का लाभ, जनता को कर रहे गुमराह

- कांग्रेस कमेटी प्रवक्ता अजय सिंह ने लगाए आरोप

इटारसी। नवदुनिया प्रतिनिधि

प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रवक्ता अजय सिंह यादव ने यहां पत्रकार वार्ता में पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान एवं भाजपा पर घटिया राजनीति और बयानबाजी करने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को नया सबेरा में 80 रुपए बिल मिला, झाबुआ उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी के माता-पिता का किसान कर्जमाफ हुआ, लेकिन इसके बावजूद भाजपा झूठे आरोप लगा रही है। भाजपा के नेताओं ने योजनाओं का लाभ लिया है। अब लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

यादव ने कहा कि भारी बारिश एवं बाढ़ से प्रदेश के 39 जिलों की 284 तहसीलें प्रभावित रहीं, करीब 60.47 लाख हेक्टेयर की 16270 करोड़ रुपए की फसल चौपट हुई, एक लाख 20 हजार घरों, 11 हजार किमी. की सड़कों, एक हजार पुल-पुलियाओं का नुकसान हुआ। उन्होंने आरोप लगाया कि इसके बावजूद केंद्र सरकार प्रदेश को राहत पैकेज नहीं दे रही है। यहां के भाजपा नेता पैसा दिलाने की जगह किसान आंदोलन कर ड्रामा कर रहे हैं। भाजपा प्रदेश में अपनी करारी हार को पचा नहीं पाई। यहां के एक भी भाजपा सांसद ने पैकेज दिलाने के लिए सवाल नहीं उठाए।

घोटालेबाज जेल जाएंगे

यादव ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार द्वारा सिंहस्थ, पौधरोपण घोटाला, ई टेडंिरंग, व्यापम घोटाले की विशेष जांच कराई जा रही है, सारे भ्रष्ट अफसर और भाजपा के मंत्री इसमें जेल जाएंगे। कांग्रेस आरोप पत्र के मुताबिक लगातार जांच करा रही है, एसटीएफ को कार्रवाई का जिम्मा सौंपा गया है। प्रेस वार्ता में नगर कांग्रेस अध्यक्ष पंकज राठौर, प्रदेश प्रवक्ता राजकुमार केलू उपाध्याय, संभागीय प्रवक्ता अशोक जैन मौजूद रहे।

टाल गए जवाब

पत्रकारों ने जब जिले में अवैध रेत खनन, प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा की निष्क्रियता एवं गुट विशेष से घिरे रहने, 25 सालों से विस चुनाव में हो रही हार समेत जिलाध्यक्ष एवं कार्यकारिणी गठन को लेकर सवाल खड़े किए तो यादव गोलमोल जवाब देकर सवाल टाल गए, उन्होंने कहा कि जिन कार्यकर्ताओं ने संघर्ष किया है, उनका सम्मान तो होना चाहिए। जिला कांग्रेस की जो समस्या है, उसे पीसीसी तक पहुंचाएंगे।

फोटो नेम..03 आईटी 03

इटारसी। प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए यादव।

0000000000

एक मंच पर नजर आई देश की लोक कला और संस्कृति की छटा..

देशज 2019 का दूसरा दिन, कलाकारों ने बांधा समां

इटारसी। नवदुनिया प्रतिनिधि

संगीत नाटक अकादमी नई दिल्ली केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय एवं नगरपालिका परिषद द्वारा 2 नवंबर से 6 नबंबर तक गांधी स्टेडियम में देशज कार्यक्रम हो रहा है। इसके दूसरे दिन देश के कई राज्यों की कला संस्कृति की सतरंगी छटा मंच पर बिखरी। सैकड़ों कलाप्रेमियों एवं दर्शकों ने रात 9 बजे तक लोककलाओं का जीवंत प्रदर्शन देखा। रविवार को लोक संगीत, छतीसगढ़ सेरा नृत्य, मध्यप्रदेश, चेराव एवं चेलम नृत्य मिजोरम, तांदी नृत्य,उत्तराखंड, पूजा कुनिथा, कर्नाटक, सिद्दि धमाल, गुजरात के कलाकारों ने समां बांध दिया। विशेष लाइटिंग से सजे मंच और कलाकारों के रंग बिरंगे पारंपरिक पहनावे ने लोगों को आर्कषित किया।

फोटो 03 आईटी 04-05

इटारसी। देशज कार्यक्रम में प्रस्तुति देते हुए लोक कलाकार।

0000000000

दुष्कर्म के आरोपित को सात साल का सश्रम कारावास

इटारसी। द्वितीय अपर सत्र न्यायालय की पीठासीन अधिकारी

प्रीति सिंह की अदालत ने शिवनगर चांदौन आयुध निर्माणी पथरोटा निवासी दिनेश पुत्र स्वर्गीय रामकिशोर उइके को भारतीय दंड विधान की धारा 376 में दोषी पाते हुए 7 वर्ष के सश्रम कारावास की सजा एवं 1000 रुपए के अर्थदंड की सजा सुनाई है। धारा 506 के तहत 2 वर्ष के सश्रम कारावास एवं 100 रुपए का अर्थदंड भी मिला। अपर लोक अभियोजक राजीव शुक्ला ने बताया कि 28 जून 2014 को शाम 7 बजे पीड़िता ने बताया कि वह 19 जून 2014 को दोपहर 2 बजे तहसील पहुंची थी तो आरोपी दिनेश उसे वहां मिला और उसने उसकेदोस्तों पुरू के मकान में ले गया और अंदर जाकर कर दरवाजा लगा कर उसके मना करने पर उसके साथ जबरदस्ती बुरा काम किया था उसे जान से मारने की धमकी दी थी, इस वजह से उसने किसी को नहीं बताया। 25 जून 2014 को अपने बड़े पिताजी के मकान होशंगाबाद में रहने वाली मंजू दाईमा और उसके पति अनिरुद्घ को सारी बातें बताई थी और घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस प्रकरण में न्यायालय द्वारा यह आदेश दिया गया है कि आरोपी द्वारा पीड़िता को एवं उसके परिजन को जान से मारने की धमकी देते हुए अनजान मोबाइल नंबर से पहले बार बार फोन किया गया उसके बाद आरोपी से मिलने के लिए पीड़िता को धमकी दी गई, जब वह गई तो आरोपी ने दबाब बनाकर अपराध को अंजाम दिया। इसे गंभीर प्रकरण मानकर आरोपित दिनेश उइके को धारा 376 (1) एवं धारा 506(2) भारतीय दंड विधान के तहत दोषी पाते हुए उक्त सजा से दंडित किया गया है।

000000000

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket