इटारसी नवदुनिया प्रतिनिधि।

मंगलवार को चलती ट्रेन से गिरे एक यात्री की जान आरपीएफ एवं सिटी पुलिस के जवानों की मेहनत से बचा ली गई। इटावा उप्र निवासी 40 वर्षीय यात्री शैलेन्द्र सिंह सुबह पवारखेड़ा-इटारसी अप-डाउन ट्रेक के बीच चलती ट्रेन से गिर गया था, ट्रेक किनारे खून से लथपथ पड़े यात्री की सूचना भोपाल कंट्रोल से मिलने के बाद सिटी पुलिस आरपीएफ जवानों ने अपने कर्तव्य का निर्वहन कर घायल यात्री को दुर्गम रास्तों से होकर सही समय पर उपचार हेतु सरकारी अस्पताल पहुंचा दिया। आरपीएफ के सहायक उपनिरीक्षक प्रकाश बिल्लौरे, आरक्षक सतीश चौधरी, सिटी थाने के आरक्षक सुनील ओझा, पुष्पेन्द्र भदौरिया ने मौके पर जाकर यात्री की जान बचाते हुए उसे सरकारी अस्पताल पहुंचाया। हालत नाजुक होने पर उसे यहां से नर्मदा अपना अस्पताल रेफर किया गया है। चौधरी के अनुसार जिस जगह पर यात्री गिरा था, वहां ट्रेक किनारे नाला और झाड़ियां थीं, यहां एबुलेंस या दोपहिया वाहन तक पहुंचना मुश्किल था, पुलिस जवानों ने देशभक्ति जनसेवा के संदेश को सामने रखकर घायल यात्री को कंधे पर लादकर नाला पार किया, इसके बाद मोटरसाइकिल से उसे सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। युवक के पास मिले मोबाइल एवं आधार कार्ड से उसकी पहचान करने के बाद उप्र निवासी उसके परिवार को हादसे की जानकारी दी।

वर्दी हुई खराबः मानवसेवा के इस काम में पुलिस जवानों की वर्दी भी खून के दाग लगने की वजह से खराब हो गई, लेकिन चारों पुलिसकर्मियों ने यात्री की जान बचाने के लिए कड़ी मेहनत कर उसे ट्रेक किनारे सड़क तक पहुंचाया, यहां लाने के बाद आरक्षक सतीश चौधरी ने बाइक चलाई, वहीं पीछे सहारा देकर सिटी थाने के आरक्षक पुष्पेन्द्र भदौरिया ने पीछे संभाला। नर्मदा अस्पताल प्रबंधक मनोज सारन के अनुसार यात्री का इलाज किया जा रहा है, सिर में गंभीर चोट लगने के कारण वह बेहोश है, उसके स्वजन भी अस्पताल पहुंचेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close