इटारसी। इटारसी से जबलपुर के बीच स्थित गुर्रा स्टेशन के पास मंगलवार को पटना से बैंगलोर जा रही संघमित्रा एक्सप्रेस की चपेट में आने से सात ऊंटों की मौत हो गई। राहत की बात यह रही कि ट्रेन बड़े हादसे का शिकार होने से बच गई।

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार गुर्रा स्टेशन के पास रेलवे ट्रेक पर तेज रफ्तार से दौड़ रही संघमित्रा एक्सप्रेस के सामने अचानक ऊंटों का काफिला गया। जिससे पांच मिनट के अंतराल में सात ऊंट कट गए। ट्रेन के इंजन में मौजूद चालक-सहचालक भी सहम गए, लेकिन उन्होंने नियंत्रण नहीं खोया और कुछ दूर जाकर ट्रेन रोक ली।

अन्यथा ट्रेन पटरी से उतरकर पलट सकती थी, क्योंकि ऊंटों की कद-काठी अधिक होती है। गुर्रा के स्टेशन अधीक्षक ने वरिष्ठ अधिकारियों को इस घटना की सूचना दी। दोपहर करीब ढाई बजे ट्रेन इटारसी पहुंची तो उसके इंजन का अगला हिस्सा खून से रंगा था। नीचे ऊंटों की चर्बी फंसी थी।

रेलवे ने ऊंट मालिक को भी पूछताछ के लिए रोका है। ऊंट मालिक प्रहलाद के अनुसार वे राजस्थान के पाली जिले के निवासी हैं। वहां चारे की कमी के चलते सैकड़ों भेडों और ऊंट का काफिला यहां हर साल लाते हैं। एक ऊंट की कीमत करीब सवा लाख स्र्पए होती है। इस लिहाज से काफी नुकसान हो गया। इधर, स्टेशन प्रबंधक एसके जैन ने बताया कि ट्रेन शेड्यूल पर यहां आ गई थी।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local