इटारसी नवदुनिया प्रतिनिधि।

उत्तर-दक्षिण व्यस्त रेल कारिडोर के भोपाल-इटारसी रेल खंड पर बरखेड़ा से बुधनी (घाट सेक्शन) के बीच 26.50 किमी तीसरी लाइन परियोजना पर तीसरी सुरंग तैयार हो चुकी है। आरवीएनएल द्वारा निर्माण की जा रहीं पांच सुरंगों में से तीसरी सुरंग (200 मीटर) का निर्माण पूरा करने में सफलता हासिल करते हुए इसे दोनों तरफ (आर-पार) खोल दिया गया है। बड़े ही दुर्गम क्षेत्र से गुजरने वाली इस सुरंग का निर्माण कार्य कठिन और चुनौतियों भरा रहा, जिसे दिन-रात कठिन मेहनत कर पूरा किया गया।

इस प्रकार घाट सेक्शन में निर्माण की जा रही पांच सुरंगों में से तीन सुरंगों (टनल-1 की लंबाई 1080 मीटर, टनल-5 की लंबाई 530 मीटर एवं टनल-3 लंबाई 200 मीटर) का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है। टनल-2 की लंबाई 200 मीटर एवं टनल-4 की लम्बाई 140 मीटर का निर्माण कार्य प्रगति पर है।

इन सुरंगों के निर्माण में अत्याधुनिक सामग्री का उपयोग किया जा रहा है। वर्तमान समय में टनल के अंदर जैसे इन्वर्ट सफाई, पीसीसी, नोफाइन कांक्रीट, 315 मिमी व्यास वाले सेण्ट्रल ड्रेन, 160 मिमी व्यास के साइड ड्रेन एवं निचले हिस्से में आरसीसी आदि के उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री से निर्माण कार्य हुए हैं।

वन्य जीव संरक्षण हेतु इस लाइन पर 05 ओवर पास, 20 अंडर पास, वन्य जीवों को पानी पीने के लिए 6 डैम का निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा एक जल भंडार, जिस पर सौर ऊर्जा से संचालित बोरवेल रेलवे द्वारा लगाया गया है।

मण्डल रेल प्रबंधक सौरभ बंदोपाध्याय ने बताया कि इन सभी टनलों का निर्माण कार्य बड़े ही चुनौती पूर्ण ढंग से किया जा रहा है। सबसे चुनौतीपूर्ण कार्य टनल-5 की 530 मीटर डबल ट्रेक का निर्माण किया गया, जिसमें 500 मीटर वक्रीय कार्य और 14.4 मीटर चौड़ाई का कार्य बिना किसी गलती के पूरा हुआ। टनल 4 एवं 5 मे एक वन्यजीव अभ्यारण्य स्थित है, जिसमें पर्यावरण संरक्षण के नियमों का पूरा पालन किया गया है। इस रेल लाइन के बन जाने से बीना से इटारसी तक तीसरी लाइन का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। इस लाइन के चालू हो जाने से गाड़ियों की गति बढ़ने के साथ ही क्षेत्र की प्रगति होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local