Jabalpur News : जबलपुर ( नईदुनिया प्रतिनिधि)। नर्मदा के शुद्धिकरण में 16 करोड़ खर्च किए जाएंगे। नदी में मिल रहे नालों के गंदे पानी को शुद्ध करने जल शुद्धिकरण संयंत्र (सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट) स्थापित किए जाएंगे। संयंत्र स्थापित करने के लिए निविदा जारी कर दी गई है। ये जानकारी महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने दी। उन्होंने दावा किया है कि दीपावली के पूर्व तक नर्मदा शुद्धिकरण का संकल्प पूरा कर लेंगे। नर्मदा में मिलने वाले गंदे नाला-नालियों के पानी को संयंत्र के माध्यम से स्वच्छ जल के रूप में परिवर्तित किया जाएगा। एक बूंद भी गंदा पानी नर्मदा में नहीं मिलेगा।

तेजी से कराएं जाएंगे कार्य, मनाएंगे दीपोत्सव-

नर्मदा को निर्मल करने की दिशा में तेजी से कार्य कराए जाएंगे। निविदा जारी कर दी। अब जल्द ही आगे की कागजी प्रक्रिया पूरी कर जमीनी स्तर पर कार्य किए जाएंगे। इसकी निगरानी वे स्वंय करेंगे। उन्होंने अपना संकल्प पुन: दोहराते हुए कहा कि दीपावली के पूर्व नर्मदा नदी को साफ और स्वच्छ कर नर्मदा तट को सवा लाख दीपों के श्रृंगार से सजाकर दीपोत्सव मनाया जाएगा। महापौर ने कहा कि शहर विकास के लिए जो कहा वो किया, आगे भी जो कहूंगा वो करके दिखाऊंगा।

पांच माह पहले शुरू हुए थे प्रयास

विदित हो कि नर्मदा शुद्धिकरण के लिए महापौर ने संकल्प के साथ महापौर पद का पदभार ग्रहण करते हुए 07 अगस्त 2022 को आयुक्त को पत्र लिखकर इस दिशा में कार्यवाही करने कहा था। पांच माह परिणाम स्वरूप 16 करोड़ रुपये टेंडर जारी कर किए हैं।

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close