जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गणतंत्र दिवस पर पं. रविशंकर शुक्ल स्टेडियम में मुख्य समारोह के दौरान हुए ड्रोन हादसे में पुलिस और प्रशासन की लापरवाही सामने आई है। कृषि विभाग की झांकी में ड्रोन जीवंत प्रस्तुति देते वक्त अनियंत्रित होकर नृत्य कलाकारों के ऊपर गिर गया था, जिससे दो कलाकारों के सिर पर गहरी चोट आई।

घटना के दौरान पुलिस ने ड्रोन उड़ाने वाले व्यक्ति को न तो गिरफ्तार किया और न ही उसका मेडिकल परीक्षण कराया गया। जब घटना का वीडियो वायरल हुआ तो प्रशासन हरकत में आया। इधर कृषि विभाग ने भी अनान-फानन में मदनमहल थाने में घटना की शिकायत दर्ज कराई।

इस संबंध में पुलिस का कहना है कि कृषि विभाग की ओर से मदनमहल थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। मामले की जांच के बाद पता चलेगा कि हादसे में ड्रोन उड़ाने वाले की गलती थी या नहीं। इधर जिला प्रशासन के मुताबिक घायल हुए दोनों कलाकारों का निजी अस्पताल में उपचार कराया गया। वे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्हें बुधवार शाम को ही अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया।

घटना को बताया जा रहा हादसा: मामला तूल पकड़ने के बाद जिम्मेदार इस घटना को हादसा बताने में जुट गए हैं। नईदुनिया ने जब ड्रोन उड़ाने वाले अभिनव ठाकुर से बात की तो उनका कहना था कि घटना के बाद उन्होंने घर पर ड्रोन की जांच की। इस दौरान उन्हें ड्रोन की एक मोटर में पक्षी का पंख मिला। इस पंख से मोटर जाम हो गई और ड्रोन अनियंत्रित होकर नीचे गिर गया था। हालांकि वहीं दूसरी ओर घटना के दौरान आयोजन स्थल पर मौजूद रहे प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जिस वक्त ड्रोन उड़ रहा था, उसके आस-पास कोई पक्षी नहीं था। घटना को जो वीडियो वायरस हो रहा है, उसमें भी कोई पंक्षी नजर नहीं आया। हालांकि अब मामले की जांच में पुलिस जुट गई है।

----------------------

कृषि विभाग को घटना की जांच के निर्देश दिए गए हैं। ड्रोन से घायल दोनों ही कलाकार स्वस्थ्य हैं। उन्हें उपचार के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है।

कर्मवीर शर्मा, कलेक्टर

--------------------

मदनमहल थाने में कृषि विभाग की ओर से घटना की शिकायत दर्ज की है। इस मामले की विस्तार से जांच की जा रही है। जांच के बाद ही यह बात सामने आएगी कि ड्रोन उड़ाने वाला दोषी है या नहीं। यदि वह दोषी है तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

सिद्धार्थ बहुगुणा, पुलिस अधीक्षक

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local