जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा सुबह जबलपुर पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की। नए मंडल अध्यक्ष से संगठन ने परिचय करवाया। इस दौरान कार्यकर्ताओं की परेशानी को जानने का प्रयास गृहमंत्री ने किया। एक कार्यकर्ता ने कहा कि जबलपुर महानगर है लेकिन यहां से किसी को मंत्री नहीं बनाया गया। ये सुनकर गृहमंत्री ने कहा कि आप ने रॉन्ग नंबर लगा दिया है। ये विषय मेरा नहीं है। इस मामले में संगठन और सरकार स्तर पर निर्णय होता है।

इसके अलावा गृहमंत्री को मंडल अध्यक्षों ने पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर शिकायत की। कई ने कहा कि पुलिस कार्यकर्ताओं की नहीं सुनती है। थानों में पुलिस के शह पर जुआ-सट्टा खिलवाया जा रहा है। इसकी शिकायत करने के बावजूद पुलिस कोई ध्यान नहीं देती है। जनता हमारे पास शिकायत लेकर पहुंचती है। जब उनका काम नहीं होता है तो वो निराश होते हैं। गृहमंत्री इसके अलावा विधानसभा क्षेत्र के विधायकों से मिले। उनके साथ भी थानावार जानकारी ली। जनप्रतिनिधियों ने बताया कि थानों में पुलिस के अधिकारी अपनी मर्जी से काम करते हैं किसी तरह की कार्यवाही से पहले कोई बातचीत नहीं करते हैं।

आप बन जाए प्रभारी मंत्री: एक कार्यकर्ता ने जब सुना कि मंत्री नहीं मिला है तो उन्होंने गृहमंत्री को ही जबलपुर की कमान लेने की मांग की। जिस पर गृहमंत्री मुस्करा दिए। उन्होंने कहा कि पहले भी दो बार जबलपुर का प्रभार सम्हाल चुकें है अब नहीं। इस मौके बाबा श्रीवास्तव, मुखर्जी मंडल के योगेश लोखंडे, अर्जुन रजक, अभिषेक तिवारी नीटू, राहुल दुबे, अटल बिहारी बाजपेयी मंडल अध्यक्ष आशीष, चेतन यादव, शिवेंद्र शर्मा आदि मौजूद रहे।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags