जबलपुर, नईदुनिया रिपोर्टर। शहर की अनुष्का सोनी ने राष्ट्रीय कला उत्सव में शास्त्रीय संगीत वादन में सितार की बेहतरीन प्रस्तुति देकर प्रदेश को राष्ट्रीय स्तर पर तृतीय स्थान दिलाया है। अनुष्का ने इस प्रतियोगिता में अपना स्थान बनाने के लिए सबसे पहले जिला व राज्य स्तरीय के लिए अपने सितार वादन का वीडियो भेजा था। जिस पर इन्हें राष्ट्रीय स्तर के लिए चयनित किया गया। राष्ट्रीय कला उत्सव में बेहतर प्रस्तुति देने के लिए अनुष्का भोपाल गईं। जहां पर दो महीने तक अभ्यास करती रहीं। अनुष्का ने बताया कि सितार सीखने की प्रेरणा उन्हें अपने घर के संगीत भरे माहौल से ही मिली। बचपन से ही अपने दादा प्रो.रूप कुमार सोनी को सितार बजाते देखा है और फिर मैं भी उनके साथ सितार बजाने लगी। 5 वर्ष की उम्र से सितार में रुचि रही, जिसके चलते घर पर ही दादा जी से सितार सीखने लगी।

घर का माहौल संगीतमय : पिता सजन सोनी भी घर पर विभिन्न तरह के वाद्य यंत्र बजाने का प्रशिक्षण देते हैं। घर का माहौल संगीतमय ही है। जिसकी वजह से मैं इस क्षेत्र में बेहतर कर पा रही हूं। सुबह 2 घंटे और शाम को दो घंटे सितार बजाने का अभ्यास करती हैं। अनुष्का दिल्ली पब्लिक स्कूल मंडला रोड में कक्षा 11वीं की छात्रा है। अनुष्का ने बताया कि वो बाल भवन में डॉ.शिप्रा सुल्लेरे से शिक्षा ले रही हैं। आगे फाईन आर्ट के क्षेत्र में जाना चाहती हैं। इसके साथ ही सिविल सर्विसेज में जाने का सपना है। अनुष्का ने बताया कि शास्त्रीय संगीत में काफी सालों की मेहनत लगती है। इसके लिए धैर्य होना बेहद जरूरी है। इसमें अनुशासन होता है। जो आपको हर वक्त बेहतर करने में सहयोग करता है। पाश्चात्य संगीत में ये सब नहीं होता। आज के समय में भी मेरे लिए शास्त्रीय संगीत ही प्रथम प्राथमिकता रखता है। इसमें मेहनत लगती है, लेकिन ये जहां भी होता है वहां इसे पसंद करने वाले आ ही जाते हैं।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags