जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। दुबई में रहकर क्रिकेट का आनलाइन सट्टा खिलाने करने वाले सतीश सनपाल के सबसे करीबियों में से एक माने जाने वाले रामपुर निवासी बुकी गुरमुख आहूजा को गोरखपुर ने दबोच लिया। मंगलवार को वह शहर आने के बाद भागने की फिराक में था, तभी पुलिस ने उसे तिलहरी के पास दबोचा लिया। गुरमुख को लेकर पुलिस टीम रामपुर चौक पंजाब नेशनल बैंक के पास एसजी स्क्वेयर अपार्टमेंट पहुंची। जहां उसके द्वारा संचालित यूनिफाइड बैव आप्शन के कार्यालय में तलाशी कार्रवाई की गई। पुलिस ने वहां से कई दस्तावेज, सीसीटीवी का डीवीआर सहित अन्य सामान जब्त किया है। जांच के दौरान पुलिस को यह भी पता चला है कि सतीश सनपाल जब भी शहर आता था, तब वह गुरमुख से मिलने के लिए उसके कार्यालय जाता था। शहर में रहते हुए भी वह ज्यादातर समय गुरमुख के कार्यालय में ही बैठता था। इसके साथ ही गुरमुख फरार बुकी दिलीप खत्री का भी खास बताया जाता है।

दो सहयोगियों को किया गया था गिरफ्तार-

गोरखपुर पुलिस ने विगत 13 सितंबर को गुप्तेश्वर निवासी अखिल चावला और गोरखपुर से समीर पोपटानी को दबोचा था। जांच में अ​खिल के पास 16 हजार 200 रुपये नकद, मोबाइल फोन व समीर के पास से क्रिकेट सट्टे का हिसाब किताब एक्सल सीट में लिखा करोड़ों का हिसाब किताब मिला था। पूछताछ में दोनों ने कबूला था कि उनको बुकी रामपुर निवासी गुरमुख अहूजा, दया सिंधी, कमल खत्री, कमल मलानी इसके एवज में समीर को प्रतिमाह 12 हजार रुपये देते थे। बताया जा रहा रह है कि अखिल व समीर की गिरफ्तारी के बाद गुरमुख ने अपने सहयोगियों को वाट्सएप ग्रुप में मैसेज डालकर सभी को अंडर ग्राउंड होने की बात लिखी थी। गुरमुख के पकड़े जाने के आद पुलिस टीम अब उससे पूछताछ कर उन लोगों का पता लगाने का प्रयास कर रही है जो उसके ग्रुप से जुड़े थे।

आनलाइन सट्टे से रोजाना करोड़ों का धंधा

गोरखपुर टीआइ एसपीएस बघेल ने बताया कि गुरमुख अहूजा मोबाइल एप के माध्यम से क्रिकेट सट्टा संचालित करता था। वह एप की सुपर मास्टर आईडी संचालित करता था। गुरमुख ने शहर में अपने सहयोगियों को सुपर मास्टर आईडी से मास्टर आईडी बनाकर दी थी। इस मास्टर आईडी के जरिए उसके सहयोगी शहर के छोटे बुकियों को एप और आईडी पासवर्ड बनाकर उपलब्ध कराते थे। जांच में यह बात सामने आई कि एक मैच में गुरमुख करोड़ों रुपये का धंधा करते हुए लेनदेन कर लेता था। टीआइ बघेल ने बताया कि सट्टा एक्ट के मामले में गुरमुख आहूजा को गिरफ्तार किया गया है। उसके कार्यालय से अहम दस्तावेज व जानकारियां मिली है। उससे अन्य फरार आरोपियों के सम्बंध में पूछताछ की जा रही है।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close