जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। ईंट मारकर युवक की हत्या के तीन आरोपियों को जिला अदालत ने दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। अपर सत्र न्यायाधीश उमेश कुमार सोनी की कोर्ट ने बरेला निवासी आरोपियों कुणाल उर्फ सुंदरम, कल्लू उर्फ लोक राम व सत्यम झारिया को सजा सुनाई। कोर्ट ने उन पर 1500-1500 रुपए जुर्माना भी लगाया।

प्रभारी उपसंचालक व जिला लोक अभियोजन अधिकारी अजय कुमार जैन ने कोर्ट को बताया कि 31 जुलाई 2018 को दोपहर करीब 03:30 बजे बरेला थानांतर्गत निवासी कैलाश झारिया ने अभियुक्त कुणाल को मुरम गिराने के पैसे के लिए बोला तो उसने मना करते हुए गंदी गालियां दी। जब कैलाश ने गालियां देने से मना किया तब आरोपी कुणाल ने जान से मारने की नीयत से कैलाश के सीने में ईंट से मारा। इससे कैलाश बेहोश होकर गिर गया। बीच-बचाव करने ज्ञान बाई और दुर्गाप्रसाद आये तो आरोपी लोकराम झारिया अपने लड़के सत्यम झारिया के साथ हाथ में लाठी लेकर आया और जान से मार डालने के उद्देश्य से दुर्गाप्रसाद के सिर में मार दिया। उसके सिर में प्राणघातक चोट लगी । आहत ज्ञान बाई द्वारा मना करने पर सत्यम और जय ने उन्हें भी ईंट के टुकड़े से मारा। मारपीट करने के बाद चारों आरोपियों ने धमकी दी कि रिपोर्ट करने पर जान से मार देंगे। रिपोर्ट पर थाना बरेला में मामला दर्ज कर अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया। सुनवाई के बाद कोर्ट ने आरोपियों को अपराधी करार देकर सजा सुनाई।

गांजा रखने के आरोपित को तीन साल की कैद

जिला अदालत ने अवैध रूप से पांच किलो गांजा रखने वाले को तीन साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। विशेष न्यायाधीश एनडीपीएस सुजीत कुमार सिंह की कोर्ट ने आरोपी नीतेश उर्फ नित्तू विश्वकर्मा पर 15 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। अभियोजन की ओर से अतिरिक्त लोक अभियोजक अरविंद जैन ने बताया कि जीआरपी ने 15 नवंबर 2019 को दोपहर तीन बजे नीतेश की तलाशी लेकर उसके पास से 5 किलो 150 ग्राम गांजा बरामद किया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच के बाद कोर्ट में चालान पेश किया। अदालत ने नीतेश को दोषी करार देते हुए उक्त सजा सुनाई।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close