जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सोमवार को समय सीमा बैठक का आयोजन हुआ। इस बैठक में गलघोंटू (डिप्थीरिया) की रोकथाम के लिए हर स्तर पर प्रयास किए जाने की शपथ ली गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिला पंचायत सीईओ डा. सलोनी सिडाना ने सभी विभाग प्रमुखों से इस प्रयास में सहभागी बनने का आह्वान किया।

समय सीमा बैठक में मौजूद सभी विभागों के जिला अधिकारियों ने डिप्थीरिया (गलघोंटू) की जानलेवा बीमारी से बच्चों को मुक्ति दिलाने 16 से 31 अगस्त तक जिले में चलाए जाने वाले चाइल्ड वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाने का संकल्प लिया। जिला पंचायत की सीईओ डा. सलोनी सिडाना ने बैठक में मौजूद सभी विभागों के जिला अधिकारियों को यह संकल्प दिलाया। जिला अधिकारियों द्वारा इस संकल्प में कहा गया है कि वे अपने विभाग के मैदानी अमले के सहयोग से बच्चों में डिप्थीरिया की बीमारी को खत्म करने के लिए चलाए जाने वाले चाईल्ड वैक्सीनेशन अभियान की जानकारी अभिभावकों तक पहुंचाएंगे। इसके साथ ही अभिभावकों को अभियान में लगाई जाने वाली डीपीटी और टीडी की वैक्सीन के फायदे भी बताए जाएंगे।

बैठक में जिला टीकाकरण अधिकारी डा. एसएस दाहिया ने बताया कि डिप्थीरिया की बीमारी को खत्म करने के लिए चाइल्ड-अभियान के तहत पांच वर्ष की आयु के बच्चों को डीपीटी का टीका लगाया जाएगा। जबकि दस से सोलह वर्ष के बच्चों को टीडी की वैक्सीन लगाई जाएगी। जिले में अभियान के तहत 90 हजार बच्चों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। वैक्सीन लगाने की शुरुआत स्कूलों से की जाएगी।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close