जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। बरगी थाना क्षेत्र की देसी अंग्रेजी शराब दुकान में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले चार हथियारबंद बदमाशों का पता पुलिस अब तक नहीं लगा पाई है। वारदात हुए एक सप्ताह हो चुका है, पुलिस के पास सीसीटीवी कैमरे फुटेज भी हैं, लेकिन अब तक आरोपितों की पहचान नहीं हो पाई है। बरगी टीआई रितेश पांडे ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपितों की पहचान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। आस-पास के गांव तथा थानों में सीसीटीवी से प्राप्त फोटो भेजकर पता लगाया जा रहा है।

बरगी पुलिस ने बताया कि देसी व अंग्रेजी शराब दुकान बरगी में पिछले मंगलवार की रात करीब 10 बजे कर्मचारी अमित जयसवाल, मंटू गुप्ता, अरुण राय एवं संदीप मौजूद थे। अमित देसी शराब वाले काउंटर पर तथा मंटू अंग्रेजी शराब वाले काउंटर पर बैठकर ग्राहकों से पैसे का लेनदेन कर रहे थे, तभी रात चार बदमाश शराब दुकान में पहुंचे, जो हाथ में हसिया, डंडा और पत्थर लिए हुए थे। हथियार लिए बदमाश देसी शराब दुकान के काउंटर पर पहुंचे और कमचारी अमित को उल्टा हंसिया मारा, जिससे वह काउंटर छोड़कर भाग गया। इसके बाद बदमाश ने काउंटर की गल्‍ले में रखें रुपये लूट लिए । इसी दौरान एक बदमाश अंग्रेजी शराब दुकान वाले काउंटर पर पहुंचा और वहां भी लूटपाट मचा दी। दोनों काउंटरों के गल्‍ले में रखे रुपए लूटने के बाद चारों बदमाश दुकान से भाग गए। वारदात के बाद भाग रहे बदमाशों का शराब दुकान के कर्मचारियों एवं अन्य लोगों ने पीछा किया तो वह पथराव करते हुए जंगल में घुस गए। वारदात के बाद से ही आरोपितों की तलाश में पुलिस की अलग-अलग टीमें लगी हुई हैं।

योजनाबद्ध तरीके से दिया था वारदात को अंजाम-

शराब दुकान में लूट के दौरान एक बदमाश दुकान के बाहर हाथ में पत्थर लेकर खड़ा था, जो लोगों को पत्थर मारने की धमकी देते हुए दुकान से दूर रहने की धमकी दे रहा था, जबकि अन्य तीन बदमाश अंदर लूटपाट कर रहे थे। इस दौरान काउंटर पर रखी शराब की बोतल भी कर्मचारियों को बदमाशों ने फेंक कर मारी। भागते समय कर्मचारियों और लोगों ने बदमाशों का पीछा किया तो उन्होंने पत्थर चलाए, जिससे संदीप, अरुण एवं अन्य दो लोगों को चोट लग गई। इसके बाद बदमाश जंगल की ओर भाग गए।

Posted By: tarunendra chauhan

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close