CM Shivraj in Jabalpur: जबलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)।मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पुण्य सलिला नर्मदा के उमाघाट पहुंचकर उच्च स्वर में तीन बार प्रणवाक्षर ओम का उच्चारण व नर्मदा पूजन किया। इसी के साथ नर्मदा महाआरती का शुभारंभ हो गया। इस दौरान मुख्यमंत्री सहित अन्य का भक्ति-भाव देखते ही बन रहा था। सभी के चेहरों पर आनंदातिरेक का सागर हिलौरें ले रहा था। रंगीन अल्पनाओं से सजे उमाघाट में साधु-संतों के साथ अपार जनमेदिनी तालियां बजाकर जयकारा लगा रही थी। रेवा की जल लहरी में महाआरती के दीपों के प्रतिबिंबों से समग्र परिदृश्य को अतीव मनोहारी बन गया था। नर्मदा महाआरती के बाद उमाघाट के आकाश में इंद्रधनुषी आतिशबाजी हुई। कन्या पूजन हुआ। स्वच्छता की शपथ दिलाई गई। थ्री-डी प्रोजेक्शन व लेजर शो भी नयनाभिराम रहे।

सांसद, विधायक व राज्यसभा सदस्य सहित अन्य बने साक्षी

मुख्यमंत्री के सानिध्य में नर्मदा महाआरती के साक्षी बने-जबलपुर के सांसद राकेश सिंह, राज्यसभा सदस्य सुमित्रा बाल्मीकि, विधायक अजय विश्नोई, अशोक ईश्वरदास रोहाणी,सुशील तिवारी इंदु, नंदिनी मरावी, भाजयुमो के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अभिलाष पांडे, पूर्व मंत्री हरेंद्रजीत सिंह बब्बू, जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष डा. जितेंद्र जामदार, नगर निगम अध्यक्ष अध्यक्ष रिंकू विज, पूर्व महापौर प्रभात साहू, भाजपा नेता आशीष दुबे गोटिया, अमर मिश्रा, संजय नातहकर, रूपा राव सहित अन्य।

तेजस्वनी दुबे को क्राउन-रिबन पहनाकर बनाया स्वच्छता की ब्रांड एम्बेस्डर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नर्मदा महाआरती के संयोजक ओंकार दुबे की पुत्री तेजस्वनी दुबे को क्राउन-रिबन पहनाकर स्वच्छता की ब्रांड एम्बेस्डर बनाया।वे ओंकार दुबे, मनीष दुबे के खारीघाट, नर्मदा तट स्थित निवास पर भी गए। जहां भाजपा नेता स्व. भूपेंद्र दुबे का स्मरण किया।

मामा-मामा का स्वर सुन शिक्षाघाट जाकर पराग सर व विद्यार्थियों से मिले शिवराज

नर्मदा महाआरती के बाद प्रस्थान करते समय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कानों में मामा-मामा का स्वर सुनाई पड़ा। उन्होंने देखा की उमाघाट की सीढ़ियों से लगभग 70 विद्यार्थी पुकार रहे हैं। लिहाजा, वे रेलिंग अलग करवाकर वहां पहुंचे। शिक्षाघाट में निश्शुल्क पाठशाला संचालित करने वाले पराग दीवान सर से मुलाकात की और उनके विद्यार्थियों से 10 मिनिट तक संवाद करते रहे।

जबलपुर आगे बढ़ रहा है, बदल रहा है

नर्मदा पूजन व महाआरती के बाद उमाघाट में ही पत्रकारों से अनौपचारिक चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नर्मदा मैया मप्र की जीवन रेखा हैं। आज मुझे नर्मदा जी की आरती का सौभाग्य मिला है। मप्र की समृद्धि, विकास व जनता का कल्याण उनके ही आशीर्वाद से होता है। जबलपुर अागे बढ़ रहा है, बदल रहा है।जबलपुर, प्रदेश व देश पर उनकी कृपा बनी रहे। हम अपने प्रिय जबलपुर के विकास की योजनाएं बनाते जाएं और आगे बढ़ते जाएं।

महाआरती को आज 11 साल हो जाएंगे

नर्मदा महाआरती ग्वारीघाट के संयोजक पं. ओंकार दुबे ने बताया कि 11 साल पहले बसंत पंचमी के दिन नर्मदा महाआरी की शुरूआत की गई थी। तब से लगातार प्रतिदिन निर्धारित समय पर मां नर्मदा की महाआरती भक्तों द्वारा की जा रही है। महाआरती मेंअभी तक देश के राष्ट्रपति से लेकर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश सहित कई प्रदेशों के राज्यपाल और मंत्रियों सहित विदेशों से आए भक्त भी शामिल हो चुके हैं। खास बात यह है कि कोरोना काल में भी महाआरती की भव्यता मां नर्मदा की कृपा से बनी रही।

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close