जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Coronavirus Jabalpur News एक सप्ताह के भीतर बढ़ी पांच गुना मौतों के कारण स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। यह हालात निर्मित हुए हैं शहर स्थित एक इलाके में। अब यहां निवास कर रहे एक-एक व्यक्ति की स्क्रीनिंग करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक मृतकों के जो आंकड़े सामने आए हैं, उसके मुताबिक 1 से 7 अप्रैल के बीच 9 मौतें हुई थीं, इसका आंकड़ा 15 अप्रैल तक 45 पहुंच गया।

इधर, बुधवार को कोरोना पॉजिटिव मिले रौनक सोनकर 25 के संपर्क में आए 165 परिवारों पर वायरस के संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है। कोरोना मरीज ने अपनी शासकीय उचित मूल्य दुकान से इतने लोगों को अनाज बांटा था। शरीर में कोरोना का संक्रमण लेकर वह अपने घर से दुकान, क्षेत्र तथा शासकीय दफ्तरों में आवागमन करता रहा।

बुखार के मरीजों को बेची दवा, नहीं दी सूचना

क्षेत्र में मौतों का आंकड़ा बढ़ने की सूचना को गंभीरता से लेकर पतासाजी कराई गई। जानकारी सामने आई कि क्षेत्र में सर्दी, खांसी व बुखार समेत सांस की बीमारियों से पीड़ित मरीजों को मेडिकल स्टोर वाले दवाएं बेचते रहे, जिसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को भी नहीं दी गई।

जबकि पूर्व में निर्देश दिए गए थे कि ऐसे समस्त मरीजों की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दी जाए। बुखार की दवा चिकित्सक के परचे के बगैर न दी जाए। क्षेत्र के झोलाछाप डॉक्टरों ने भी लॉक डाउन के दौरान दुकानें खुली रखीं उन्होंने भी सर्दी-खांसी बुखार व सांस में तकलीफ संबंधी बीमारियों से परेशान मरीजों के बारे में स्वास्थ्य विभाग को अवगत नहीं कराया।

यह है आशंका

अधिकारियों ने आशंका जताई है कि क्षेत्र में कोरोना वायरस का संक्रमण पहुंच चुका है। एक मरीज की मौत हो चुकी है तथा उसके स्वजन भी कोरोना वायरस से पीड़ित मिल रहे हैं। दवा दुकानों व क्लीनिकों से मिले प्रमाण के आधार पर क्षेत्र में बुखार आदि से पीड़ित मरीज सामने आ चुके हैं। लोगों ने विक्टोरिया अस्पताल में परीक्षण नहीं कराया, जिससे कोरोना संक्रमण के पांव पसारने की आशंका बनी हुई है।

अस्पताल से घर भेजा, रिपोर्ट आई पॉजिटिव

राशन दुकान संचालक रौनक सोनकर के थ्रोट स्वाब के सैंपल मंगलवार को विक्टोरिया अस्पताल में लिए गए थे। सैंपल लेने के बाद उसे अस्पताल में न रखकर होम क्वारंटाइन के लिए घर भेज दिया गया था। इससे पूर्व वह 5 अप्रैल से कोरोना वायरस के संदिग्ध लक्षणों की चपेट में था। इस बीच वह राशन दुकान का संचालन भी करता रहा। रौनक को बुधवार को मेडिकल कॉलेज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस