जबलपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। Coronavirus Jabalpur News सैलून पार्लर में काम कर मुंबई से घर लौटे युवक के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर से बापूनगर रांझी में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई है। दरअसल, मुंबई से घर लौटने के बाद कोरोना संक्रमित युवक ने कुछ लोगों के बाल काटे व दाढ़ी बनाई थी। कोरोना जांच के लिए सैंपल देकर लौटने के बाद भी यह काम किया था।

उसके पिता भी 70 रुपये के निर्धारित शुल्क पर क्षेत्र में घर-घर जाकर बाल काटने व दाढ़ी बनाने की सेवाएं देते रहे। स्वास्थ्य विभाग कोरोना मरीज के संपर्क में आने वालों का पता लगाने में जुट गया है। लेकिन क्षेत्र के जिन लोगों ने कोरोना संक्रमित युवक व उसके पिता से कटिंग व शेविंग के लिए सेवाएं ली थीं, उनके स्वजन दहशत में जी रहे हैं।

दो दिन तक करते रहे फोन तब पहुंची थी टीम

क्षेत्रीय नागरिकों ने बताया कि कोरोना पीड़ित युवक 15 मई को मुंबई से घर लौटा था। जिसे मोहल्ले में घूमता देखकर लोगों ने 15, 16 व 17 मई को कंट्रोल रूम में सूचना दी। 17 मई को क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों के हस्तक्षेप के बाद टीम पहुंची और उसे साथ ले गई। 18 मई को सैंपल लेने के बाद होम क्वारंटाइन की सलाह देकर घर भेज दिया गया। घर लौटने के बाद भी उसने कुछ लोगों के बाल काटे व दाढ़ी बनाई थी।

तीन कमरे का मकान, भाई बेचता है सब्जी

कोरोना संक्रमित युवक परिवार के साथ तीन कमरे के मकान में रहता है। सभी के इस्तेमाल के लिए घर में एक शौचालय है। बापूनगर पानी की टंकी के पास पिता सैलून की दुकान चलाते हैं। उसका भाई फेरी लगाकर सब्जी बेचता है। हालांकि सैंपल देने के बाद 21 तारीख को कोरोना संक्रमित युवक, उसके माता-पिता व भाई को संस्थागत क्वारंटाइन कर दिया गया था।

इधर, निजी अस्पताल के 20 कर्मचारियों पर कोरोना का खतरा

शास्त्रीब्रिज-होमसाइंस कॉलेज के समीप स्थित निजी अस्पताल का इलेक्ट्रीशियन 23 मई को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था। 22 मई तक वह रोजाना ड्यूटी करता रहा और अस्पताल के कई कर्मचारियों के संपर्क में रहा।

साउथ मिलौनीगंज निवासी कोरोना संक्रमित इलेक्ट्रीशियन को अस्पताल में भर्ती कराने के बाद मदनमहल पुलिस टीम अस्पताल पहुंची जहां यह जानकारी सामने आई कि मरीज अस्पताल के 20 कर्मचारियों के सीधे संपर्क में रहा। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में रहने वाले कर्मचारियों को फिलहाल होम क्वारंटाइन की सलाह दी गई है। अस्पताल कर्मी के कोरोना संक्रमित मिलने की खबर से वहां भर्ती मरीज भी दहशत में आ गए हैं। जो मरीज गंभीर हालत में नहीं हैं अस्पताल से डिस्चार्ज लेकर जाने की तैयारी में हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना