दमोह, नईदुनिया प्रतिनिधि। कार्रवाई के नाम पर रुपये मांगने के आरोप में वर्तमान में मड़ियादो थाने में पदस्थ थाना प्रभारी पर सागर लोकायुक्त में मामला दर्ज किया गया है। यह मामला तीन महीने पूर्व दर्ज किया गया था और कार्रवाई भी होनी थी, लेकिन लाकडाउन लगने के कारण यह कार्रवाई नहीं हो पाई। फरियादी ने ऑडियो रिकार्डिंग लोकायुक्त पुलिस को दी थी जिसके बाद कार्रवाई आगे बढ़ी थी। हालांकि थाना प्रभारी और एसपी इस बात से इनकार कर रहे हैं उनका कहना है कि अभी तक इस संबंध में कोई जानकारी नहीं आई है।

दस हजार रुपये प्रतिमाह मांगे थे : फरियादी कमलेश खटीक से प्राप्त जानकारी के अनुसार आदिवासी मछुआ सहकारी समिति कनोराकला विकासखंड बटियागढ़ द्वारा 10 वर्ष के लिए तालाब मत्स्य पालन के लिए पट्टे पर लिया था। गर्मी के दिनों में पानी कम हो जाता है व सूखने का डर रहता था। तालाब के पास कुछ लोगों द्वारा गर्मी में मूंग की खेती कर तालाब से अवैध सिंचाई की जा रही थी। अवैध सिंचाई करने वालों के खिलाफ सिंचाई विभाग को आवेदन दिया गया था और वहां से रजपुरा पुलिस को कार्रवाई के लिए कहा गया था। आवेदन पर कार्रवाई न कर तत्कालीन रजपुरा थाना प्रभारी अभिषेक पटेल द्वारा एक आरक्षक पवन पाठक के माध्यम से समिति सचिव कमलेश खटीक को रात दस बजे थाने बुलवाया गया था और पुलिसिया रौब दिखाया। साथ ही तालाब में समिति द्वारा मत्स्य पालन व मत्स्य आखेट व अवैध सिंचाई रोकने के एवज में 10 हजार प्रति महीने की मांग की गई थी। समिति सचिव को रुपये के लिए बार- बार परेशान किया जा रहा था। तब पीड़ित द्वारा इसकी शिकायत अप्रैल महीने में लोकायुक्त सागर में की गई। लोकायुक्त टीम द्वारा फरियादी के माध्यम से रुपये मांगने की रिकार्डिंग भी कराई गई थी। रिकार्डिंग होने के दो दिन बाद लेन-देन होना था, लेकिन इसी दौरान दमोह जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण लाकडाउन लग गया जिस कारण लोकायुक्त दबिश नहीं दे पाई। इसी दौरान रजपुरा थाना प्रभारी अभिषेक पटेल का स्थानांतरण मड़ियादो हो गया था। लोकायुक्त ने रिकार्डिंग को आधार बनाकर मामला दर्ज किया था। लोकायुक्त टीम द्वारा खुद रजपुरा थाना परिसर में जाकर फरियादी के माध्यम से रिकार्डिंग कराई थी। लाकडाउन के चलते लेन देन नहीं हो पाया और मामला दर्ज होने के बाद भी कार्रवाई नहीं हो पाई।

थाना प्रभारी को जानकारी नहीं : इस संबंध में तत्कालीन रजपुरा थाना प्रभारी और वर्तमान मड़ियादो थाना प्रभारी अभिषेक पटेल ने बताया कि मामला दर्ज होने के संबंध में उन्हे ऐसी कोई जानकारी नहीं है और ना नही उन्होंने किसी से रुपयों की मांग की है। वहीं एसपी डीआर तेनीवार का कहना है कि उन्हें भी इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है।

Posted By: Brajesh Shukla

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags