जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। चेतराम की मढि़या क्षेत्र में किराए के मकान में रहने वाली युवती की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। रविवार को उसका शव किराए के मकान का दरवाजा तोड़कर बाहर निकाला गया। घटना चेतराम की मढि़या लार्डगंज की है। मकान मालिक ने घटना की सूचना डायल 100 को दी थी।

लार्डगंज थाने से एसआइ सतीश झारिया ने बताया कि मूलत: दमोह निवासी प्रियंका त्रिपाठी 22 वर्ष एक एनजीओ में कार्य करती थी। चेतराम की मढि़या के पास किराए के मकान में अकेले निवास करती थी। शनिवार रात युवती अपने कमरे में सोने के लिए चली गई। रविवार को जब कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो मकान मालिक को चिंता हुई। उन्होंने दरवाजा खुलवाने का प्रयास किया परंतु कमरे के भीतर से आवाज नहीं आई। जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। थाना प्रभारी के निर्देश पर वे टीम सहित मौके पर पहुंचे।

प्रियंका त्रिपाठी के कमरे का दरवाजा तोड़ा गया। प्रियंका कमरे में मृत हालत में मिली। उसकी मौत कैसे हुई इसका पता लगाने के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। हालांकि उसके कमरे से कुछ दवाओं के खाली रैपर मिले हैं। जिससे अनुमान लगाया जा सकता है कि दवाओं के ओवर डोज से उसकी मौत हो गई। घटनास्थल पर सुसाइड नोट नहीं मिला है। इधर, जबलपुर पहुंचे प्रियंका के माता-पिता पोस्टमार्टम उपरांत उसका शव लेकर दमोह रवाना हो गए। मर्ग कायम कर मामले की जांच की जा रही है। प्रियंका के मोबाइल की सीडीआर, इंटरनेट मीडिया के मैसेज आदि की जांच की जा रही है।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local