Jabalpur News : जबलपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतीय जनता युवा मोर्चा के सह कार्यालय मंत्री अंकित प्रताप सिंह पर बीती रात जानलेवा हमला हुआ। देर रात वह धनवंतरी नगर से कार से लौट रहा था तभी कुछ बदमाशों ने उस पर चाकू से एक के बाद एक सात वार किए। किसी तरह से वह बचकर भागा तो उसका पीछा करते हुए मेडिकल कालेज के गेट के सामने फरसे से वार किया। अंकित इतने हमलों से बुरी तरह से लहुलुहान हो गया। अंकित को गंभीर चोट आई है जिसके बाद उसे उपचार के लिए भर्ती कराया गया। घटना से नाराज युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने संजीवनी नगर थाने में धरना दिया। कार्यकर्ताओं से मिलने कोई पुलिस का अधिकारी नहीं पहुंचा जिससे कार्यकर्ता और नाराज होकर थाने के सामने धरने पर बैठ गए। कार्यकर्ताओं ने बताया कि पुलिस वीआईपी ड्यूटी में व्यस्त है जिस कारण से कोई मिलने नहीं आ रहा है।

कार्यकर्ताओं के मुताबिक संजीवनी नगर निवासी अंकित बीती रात करीब 11.45 बजे धनवंतरी नगर मड़फैया सुभाषनगर से संजीवनी नगर की तरफ कार से लौट रहा था। उसी दौरान दीपक सैन, सूरज सैन, एवं आकाश सैन ने उस पर चाकू और फरसे से हमला कर दिया। आरेापितों ने अंकित के सोने की चैन, अगूंठी,पर्स लूट लिया वे उसकी स्विफ्ट कार लूटने का प्रयास किया। हमले के बाद खून से लथपथ अंकित को मित्र विक्रांत सिंह परिहार उसे मेडिकल में उपचार के लिए ले जाने लगा तो आरोपितों ने मेडिकल गेट के दोबारा उसे रोककर अंकित पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। अंकित को मेडिकल में भर्ती किया गया है।

थाने पहुंचे, पुलिस ने नहीं दी तवज्जों-

घटना की जानकारी जब भाजपा कार्यकर्ताओं को लगी तो युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष योगेंद्र सिंह ठाकुर के नेतृत्व में कार्यकर्ता संजीवनी नगर थाने पहुंच गए। जहां उन्होंने पुलिस अधिकारियों से विरोध का ज्ञापन लेने के लिए थाने पहुंचने के लिए कहा। पुलिस अधिकारियों ने मुख्यमंत्री के वीआईपी मूवमेंट होने की वजह से थाने पहुंचने से इंकार कर दिया। जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने थाने के सामने सड़क पर बैठकर भजन कीर्तिन करने लगे। प्रदर्शन करने वालों में रविन्द्र तिवारी, रौनक अग्रवाल, शुभम अरिहंत आदि मौजूद रहे।

थथथथ

इीर्ॅािि घीाचैनज थ

ऽऽऽऽ

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close