जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में तेजी से फैल रहे डेंगू, मलेरिया के मरीजों को देखते हुए जिला प्रशासन भी सकते में आ गया है। कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने जहां मच्छरों जनित लार्वा का सर्वे कर उनका विनिष्टिीकरण के निर्देश दिए हैं। वहीं निगमायुक्त संदीप जीआर ने एक कदम आगे बढ़ते हुए एक माह के लिए घरों के उपयोग किए जाने वाले कूलर चलाने पर ही प्रतिबंध लगा दिया है। बहरहाल कलेक्टर के निर्देश पर घर-घर जिला मलेरिया विभाग और नगर निगम द्वारा किए जा रहे लार्वा सर्वे में लोगों के घर बड़ी संख्या में लार्वा मिल रहे हैं। जिनका मौके परही विनिष्टीकरण कर संबंधिताें से जुर्माना वसूला जा रहा है।

कूलर, गमलों में बिलबिलाते मिले लार्वा: जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. राकेश पहारिया की टीम के द्वारा शहर के एक हजार 329 घरों में मच्छरों के लार्वा का सर्वे किया गया। जिसमें 5 हजार 530 कंटेनरों में लार्वा की जांच की गई। इसमें 61 घरों के 79 कूलर, गमलों में लार्वा बिलबिलाते मिले। जनसमुदाय को लार्वा की पहचान एवं विनिष्टीकरण और उससे बचने की उपाये बताए गए।

बुखार से पीडि़त मरीजों की मौके पर ही की जांच: इस दौरान 481 बुखार से पीड़ित रोगियों की रक्त पट्‌टी और आरडी किट के द्वारा जांच की गई। जिसमें मलेरिया पॉजिटिव शून्य था। डेंगू पाजिटिव केस के घरों एवं क्षेत्र के 195 घरों में स्पेस स्प्रे एवं फागिंग किया गया। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. राकेश पहारिया, नवीन यादव द्वारा नगर निगम जोन क्रमांक 6, 7 एवं 8 का भ्रमण कर कार्य निरीक्षण एवं सिद्धबाबा क्षेत्र में पाजिटिव केस का फालोअप करके स्पेश स्प्रे एवं फागिंग का कार्य कराया गया। इसी तरह अजय कुरील जिला मीडिया अधिकारी एवं रमेश काम्बले द्वारा रामपुर, छापर में तीन पाजिटिव केसों के क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग एवं नगर निगम के सहयोग से लार्वा सर्वे कर विनिष्टिकरण कराया गया।

रांझी में लार्वा विनिष्टीकरण अभियान का विधायक ने लिया जायजा: डेंगू का हाट स्पाट बने रांझी में नगर निगम द्वारा लार्वा सर्वे और विनिष्टिकरण अभियान चलाया गया। निगम के स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बड़ा पत्थर, आंबेडकर वार्ड सहित अन्य क्षेत्रों में लार्वा की जांच की। कैंट क्षेत्र के विधायक अशोक रोहणी ने भी सर्वे कार्य का जायजा लिया। मंगलवार को रांझी के एसएफ बटालियन क्षेत्र में चलाए जा रहे लार्वा विनिष्टिकरण को देखा और नागरिकों से आग्रह किया कि घरों में अपने कूलर, गमलों, बगीचों में पानी को इकट्ठा ना होने दें। इसमें लार्वा के मच्छर जल्दी पनपते हैं। इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष दामोदर सोनी, मुख्य स्वच्छता निरीक्षक अनिल मिश्रा, प्रभा शंकर कुशवाहा आदि उपस्थित रहे।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local