जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। उम्र में चार साल बड़ी भाभी की सगे देवर ने निर्मम हत्या कर दी। हंसिया से गला रेतकर हत्या करने के बाद देवर आत्मसमर्पण करने के लिए हनुमानताल थाना पहुंच गया। जहां मौजूद जवानों को उसने घटना की जानकारी दी। उसे हिरासत में लेकर पुलिस आनन-फानन में घटनास्थल पहुंची तो एक कमरे में महिला का रक्तरंजित शव जमीन पर बिछे बिस्तर पर पड़ा था। पुलिस टीम घटनास्थल का जायजा ले रही थी तभी कच्चे मकान की परछी की दीवार गिर गई। दीवार गिरने से हनुमानताल थाना प्रभारी उमेश गोल्हानी समेत तीन जवानों को चोटें आईं।

यह है मामला : हनुमानताल थाना प्रभारी गोल्हानी ने बताया कि बकरा मंडी के समीप निवासी राजा चक्रवर्ती 28 अपनी भाभी रोशनी चक्रवर्ती 32 के चरित्र पर संदेह कर लांछन लगाता था। जिसे लेकर दोनों में कहासुनी होती रहती थी। रोशनी का पति प्रदीप चक्रवर्ती पेंट, पुट्टी का काम करता है। प्रदीप व रोशनी के दो बच्चे 13 साल का बेटा व 11 साल की बेटी हैं। गुरुवार सुबह प्रदीप काम पर चला गया था। दोनों बच्चे स्कूल गए थे। दोपहर करीब एक बजे प्रदीप के पिता सुरेश चक्रवर्ती किसी काम से नगर निगम कार्यालय गए थे। कुछ देर बाद रोशनी भी कहीं चली गई और दोपहर 3.30 बजे घर लौटी। घर लौटने के बाद वह अपने कमरे में जमीन पर बिछे बिस्तर पर आराम करने लगी। तभी दूसरे कमरे में टीवी देख रहा देवर राजा चरित्र संदेह पर उससे पूछताछ करने लगा। राजा ने रोशनी पर आरोप लगाया कि उसके किसी से नाजायज संबंध हैं। जिससे वह मोबाइल पर लंबी बातचीत करती है। राजा ने धमकाया कि वह घर लौटने पर बड़े भाई प्रदीप को सब कुछ बता देगा। रोशनी ने कहा कि मैं कहीं भी जाऊं, कुछ भी करूं किसी से क्या मतलब। जिसके बाद दोनों में गहमा गहमी बढ़ गई। राजा ने घर में रखी हंसिया से रोशनी का गला रेत दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

एफएसएल अधिकारी ने की जांच : वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के एफएसएल टीम को मौके पर भेजा। जिसके बाद सीएसपी गोहलपुर अखिलेश गौर, एफएसएल अधिकारी डा. सुनीता तिवारी मौके पर पहुंचीं। घटनास्थल का जायजा लेने के बाद रोशनी का शव पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कालेज अस्पताल भेजा गया।

कपड़े बदलकर, हंसिया छिपाकर गया था : थाना प्रभारी गोल्हानी ने बताया कि रोशनी की हत्या के दौरान राजा के कपड़ों में भी खून लग गया था। वारदात को अंजाम देने के बाद उसने कपड़े बदले। हंसिया व कपड़ों को घर में छिपाकर वह थाने पहुंचा था। घटनास्थल का जायजा लेने के दौरान पुलिस ने खून से सने कपड़े व हंसिया जब्त कर लिया।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local