जबलपुर। वाहन चालकों को स्मार्ट कार्ड की तर्ज पर नए रंग और डिजाइन के ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) बनाकर दिए जाएंगे। डीएल माइक्रोचिप के साथ अब क्यूआर (क्विक रिस्पांस) कोड से भी लैस होंगे। खास बात यह है कि स्मार्ट कार्ड की तरह डीएल को स्कैन या रीड करते ही चालक सहित वाहन की पूरी जानकारी एक बार में सामने आ जाएगी। दरअसल, केन्द्रीय परिवहन मंत्रालय की अधिसूचना के बाद ऑल इंडिया फार्मेट पर डीएल जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

इसी कड़ी में जबलपुर सहित प्रदेशभर में नए फार्मेट में डीएल जारी किए जाएंगे। जबलपुर आरटीओ कार्यालय ने नए फार्मेट में डीएल बनाकर देने की तैयारी शुरू कर दी है। एक सप्ताह के भीतर आवेदकों को माइक्रोचिप, क्यूआर कोड से लैस नए लाइविंग लाइसेंस मिलने लगेंगे।

परिवहन आयुक्त करेंगे करेंगे शुभारंभ

ऑल इंडिया फार्मेट पर नए ड्राइविंग लाइसेंस बनाकर देने का शुभारंभ एक-दो दिन के भीतर मप्र परिवहन आयुक्त करने वाले है। इसके पहले प्रदेशभर के जिला कार्यालयों को नए फार्मेट के डीएल कार्ड पहुंचाए जा रहे हैं। आरटीओ कार्यालय से नए कार्ड प्रिंट कर जारी किए जाएंगे। नई व्यवस्था के तहत डीएल के लिए आवेदन करने वालों को शुरूआती दौर में कुछ परेशानी उठानी पड़ सकती है।

जिनके पास नहीं वह डुप्लीकेट बनवा सकेंगे

जिनके लाइसेंस पुराने हैं वह भी क्यूआर कोड वाले नए डुप्लीकेट लाइसेंस बनवा सकेंगे। आरटीओ में डुप्लीकेट लाइसेंस के लिए आवेदन करना होगा। यानी पुराने डीएल की जगह वह नए डीएल बनवा सकेंगे।

यह होगा फायदा

- वाहन सहित पूरी जानकारी लाइसेंस में लगी माइक्रोचिप और क्यूआर कोड से मिल जाएगी।

- बार-बार यातायात नियम तोड़ने वाले वाहन चालक आसानी से पकड़ में आएंगे

- लाइसेंस होल्डर लाइसेंस को डिजिटल लॉकर बनाकर रख सकेंगे। जरूरत पड़ने पर दिखा भी सकेंगे।

- ऑल इंडिया फार्मेट में नए ड्राइविंग लाइसेंस बनाकर दिए जाएंगे। जल्द ही भोपाल स्तर पर इसका शुभारंभ होने वाला है। आरटीओ कार्यालय से एक सप्ताह के भीतर नए लाइसेंस जारी होने लगेंगे। - संतोष पॉल,आरटीओ

Posted By: Sandeep Chourey

fantasy cricket
fantasy cricket